Sunday, October 17, 2021

 

 

 

ट्रम्प ने कहा- इराक में युद्ध लड़ना अमेरिका की ग़लती थी

- Advertisement -
- Advertisement -

डोलान्ड ट्रम्प ने कहा कि 2003-2004 में वह एकमात्र व्यक्ति थे जिसने कहा था, इराक मत जाओ क्योंकि यह पूरे पश्चिम एशिया को अस्थिर कर देगा।

इराक से हटने की राष्ट्रपति बराक ओबामा की रणनीति की आलोचना कर उसे ‘‘मूर्खतापूर्ण और खराब’’ बताते हुए रिपब्लिकन पार्टी से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के प्रबल दावेदार डोलान्ड ट्रम्प ने रविवार को कहा कि अमेरिका ने ‘‘कई गलतियां’’ की हैं और इराक में युद्ध लड़ना उनमें से एक है। ट्रम्प ने इस सप्ताह एबीसी से कहा, ‘‘इस देश ने कई गलतियां की हैं और इराक में युद्ध लड़ना उनमें से ही एक है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘वहां जनसंहार का कोई हथियार नहीं था। वहां कुछ भी नहीं था।’’ यह आरोप लगाते हुए कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अमेरिका को युद्ध से गलत तरीके से बाहर निकाला, ट्रम्प ने कहा, ‘‘हमने लड़ाई की, हमने पूरे मध्य पूर्व (पश्चिम एशिया) को अस्थिर कर दिया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘क्योंकि जिस तरीके से उन्होंने किया, तिथि की घोषणा करके, और लोगों को वहां नहीं छोड़कर, वास्तव में वह बहुत खराब और बहुत बहुत मूखर्तापूर्ण था।’’ ट्रम्प ने कहा कि 2003-2004 में वह एकमात्र व्यक्ति थे जिसने कहा था, इराक मत जाओ क्योंकि यह पूरे पश्चिम एशिया को अस्थिर कर देगा।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं युद्ध के खिलाफ था, जबकि मैं सबसे ज्यादा सैन्यीकृत व्यक्ति हूं। मैंने कहा था, यदि आप यह युद्ध करते हैं, तो आप पूरे पश्चिम एशिया को अस्थिर करने जा रहे हैं। और यही हुआ। यही कारण है कि पश्चिम एशिया में हमारे सामने शरणार्थी और अन्य सभी समस्याएं हैं।’’ (Jansatta)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles