वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को आगाह किया कि भारत, ईरान, रूस और तुर्की जैसे देशों को कभी-न-कभी अफगानिस्तान में आतंकवादियों से लड़ना होगा.

ट्रंप ने कहा कि केवल अमेरिका ही करीब सात हज़ार मील दूर आतंकवाद से लड़ने का काम कर रहा है. उन्होंने कहा कि अन्य देश फिलहाल अफगानिस्तान में आतंकवादियों के खिलाफ बहुत कम प्रयास कर रहे हैं.अफगानिस्तान में आईएसआईएस के फिर से उभरने के सवाल पर ट्रंप ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, कभी-न-कभी रूस, अफगानिस्तान, ईरान, इराक, तुर्की को अपनी लड़ाई लड़नी होगी.

उन्होने कहा, हमने पूरी तरह से खिलाफत को खत्म कर दिया. मैंने यह रिकॉर्ड समय में किया है, लेकिन ये सभी अन्य देश जहां आईएसआईएस उभर रहा है, कभी न कभी उससे प्रभावित हुए हैं.  उन्होंने कहा, ‘‘ इन सभी देशों को उनसे लड़ना होगा क्योंकि क्या हम और 19 साल वहां रुकना चाहते हैं? मैं नहीं समझता हूं कि ऐसा है.”

ट्रंप ने कहा कि अमेरिका आतंकियों से 7000 मील दूर होने के बाद भी लड़ाई लड़ रहा है, जबकि भारत और पाकिस्ताप पड़ोसी होने के बाद भी इस दिशा में कोई कदम नहीं उठा रहे हैं.

ट्रंप ने कहा, ‘देखिए, भारत बेहद नजदीक है. वे अफगानिस्तान में आतंक के खिलाफ युद्ध नहीं कर रहे हैं. हम कर रहे हैं. पाकिस्तान अफगानिस्तान के बिल्कुल दरवाजे पर है, वे बेहद छोटे स्तर का युद्ध कर रहे हैं, यह ठीक नहीं है. अमेरिका वहां से 7000 मील दूर है.’

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन