वॉशिंगटन: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का भी मानना है कि दोनों देशों के बीच हालात बहुत ही खराब और खतरनाक हैं।

शुक्रवार को ओवल ऑफिस में ट्रंप ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि इस वक्त भारत और पाकिस्तान के बीच बहुत खराब हालात हैं। उनका कहना है कि यह एक बेहद खतरनाक स्थिति है। हालांकि, उन्‍होंने कहा कि हम यह तनाव की स्थिति जल्द खत्म होते देखना चाहते हैं। हम चाहते हैं कि सीमा पर यह तनाव खत्‍म हो। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका इस प्रक्रिया पर अपनी नजर बनाए हुए हैं।

Loading...

ट्रंप ने कहा कि लगता है कि भारत को ‘बहुत कड़ा’ (Very strong) करने की सोच रहा है। ट्रंप ने कहा, “इंडिया कुछ सख्ती से करने पर विचार कर रहा है, भारत ने अभी-अभी अपने 50 लोगों को खोया है, इसके बारे में कई लोग बात कर रहे हैं, लेकिन यहां बहुत नाजुक बैलेंस चल रहा है। अभी जो कुछ कश्मीर में हुआ है इस वजह से इस वक्त भारत पाकिस्तान के बीच काफी दिक्कतें हैं। ये बहुत खतरनाक है।”

राष्ट्रपति ट्रंप ने आगे कहा कि हाल के दिनों में अमेरिका ने पाकिस्तान के साथ अपने संबंधों को सुधारा है। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्तान के साथ अधिकारी स्‍तर की वार्ता की तैयारी की जा रही है। उन्‍होंने कहा कि मैंने पाकिस्तान को 1.3 अरब डॉलर की सहायता रोक दिया है, जो हम उन्हें पहले देते थे। उन्‍होंने कहा कि हमारे कार्यकाल को छोड़कर पाकिस्तान को अमेरिका से काफी लाभ मिला है। हम पाकिस्तान को 1.3 अरब डॉलर सालाना मुहैया कराते थे। मैंने यह भुगतान रोक दिया क्योंकि वे हमारी उस तरह से मदद नहीं कर रहे थे जैसी उन्हें करनी चाहिए।

बता दें कि UN की निर्णय लेने वाली सबसे बड़ी संस्था संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भी इस हमले की निंदा है। UNSC ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का जिक्र करते हुए कहा कि इस हमले के पीछे आतंक के जिन सरपरस्तों का हाथ है उन्हें सजा मिलनी चाहिए। UNSC ने इस हमले को जघन्य और कायराना हरकत बताया।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें