Donald Trump's "Crippled America" Book Press Conference

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी चैरिटी संस्था ट्रंप फाउंडेशन के अलावा भारत में चल रहे कई परियोजनाओं को बंद करने जा रहे हैं. भारत में उनके कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं जिनमे 150 करोड़ डॉलर के पांच नए प्रोजेक्ट प्रमुख हैं.

दरअसल ट्रम्प ने ये फैसला राष्ट्रपति पद संभालने के बाद हितों के टकराव की संभावना को रोकने के लिए लिया है. जिसके तहत वे कई देशों में अपने प्रोजेक्ट बंद करने पर विचार कर रहे हैं. न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, भारत के अलावा ब्राजील, अर्जेन्टीना, अजरबेजान में भी अधूरे या पूरे हो चुकी परियोजनाओं से खुद को अलग कर रहे हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ट्रंप समूह के कारोबार की भारतीय प्रतिनिधि ‘ट्रिबेका’ के संस्थापक और मैनेजिंग पार्टनर कल्पेश मेहता के मुताबिक, भारत में ट्रंप के 150 करोड़ डॉलर के पांच नए प्रोजेक्ट चल रहे हैं, बाकी कई प्रोजेक्ट पूरे होने वाले हैं। मेहता के मुताबिक, भारत में उनका एक प्रोजेक्ट पूरा हो चुका है और दो प्रोजेक्ट की बिक्री शुरू की जा चुकी है. साथ ही अगले साल तीन और प्रोजेक्ट शुरू करने की तैयारी है.

भारत में ट्रंप समूह का निवेश विदेश में कंपनी के कारोबार में बड़ा हिस्सा है. इसमें पुणो और मुंबई, गोवा और हरियाणा में 16 से ज्यादा प्रोजेक्ट हैं. मेहता के मुताबिक, उत्तर अमेरिका के बाद ट्रंप की रीयल इस्टेट के सबसे ज्यादा प्रोजेक्ट भारत में हैं. उन्होंने स्पष्ट किया है कि वह राष्ट्रपति पद संभालने के बाद हितों का टकराव नहीं चाहते हैं।.चंदा इकट्ठा करने में न्यूयॉर्क कानूनों के उल्लंघन के आरोपों में ट्रंप की चैरिटी संस्था की जांच हो रही है.

Loading...