अरामको संकट में ट्रंप की एंट्री, बोले – जवाब देने के लिए तैयार है अमेरिका

12:17 pm Published by:-Hindi News
donald trump reuters 1

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को कहा कि सऊदी अरब में तेल संयंत्रों पर हुए हम*ले पर प्रतिक्रिया देने के लिए उनका देश तैयार है।  ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘सऊदी अरब मे तेल संयंत्र पर हम*ला हुआ। हमारे पास यह मानने का वाजिब कारण है कि हम अपराधी को जानते हैं। यदि इसकी पुष्टि हो जाती है तो हम तैयार हैं लेकिन हम इसके बारे में सऊदी अरब से जानना चाहते हैं कि इस हम*ले का क्या कारण है।’

ट्रम्प ने आगे कहा कि अमेरिका को सऊदी अरब से इस बात की पुष्टि का इंतजार था कि उन्हें ऑइल प्लांट पर ह*मले के पीछे किस पर संदेह है, जिसके बाद आगे की कार्रवाई तय की जाएगी।

बता दें कि यमन में ईरान समर्थित हुती विद्रोहियों ने शनिवार को दुनिया की सबसे बड़ी तेल कंपनी अरामको के 2 बड़े तेल संयंत्रों पर को निशाना बनाया था। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने हालांकि इसके लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया था। पोम्पिओ ने कहा था कि ‘दुनिया के सबसे बड़े तेल आपूर्तिकर्ता कंपनी पर हमले’ को लेकर ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है जो यह बताता हो कि हम*ला यमन ने किया है।

वहीं, ईरान ने सऊदी के तेल संयंत्रों पर ड्रोन हमले के पीछे उसे जिम्मेदार ठहराने वाले अमेरिकी आरोपों को ‘निराधार’ बताते हुए खारिज कर दिया था। इसके साथ ही इरान ने कहा था कि अमेरिका इस्लामी गणराज्य के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कोई बहाना ढूंढ रहा था। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मूसावी के हवाले से एक बयान में कहा गया, ‘ऐसे निराधार और बिना सोचे-समझे लगाए गए आरोप एवं टिप्पणियां निरर्थक और समझ से परे हैं।’

वहीं समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने खबर दी है कि वैश्विक तेल आपूर्ति के 5% उत्पादन पर हमलों के बाद तेल की कीमतें छह महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि मई के बाद से अमेरिकी कच्चे तेल का वायदा कारोबार 15% तक उछल गया। पिछली बार यह 60.89 डॉलर प्रति बैरल था जबकि ब्रेंट क्रूड 13% बढ़कर 68.06 डॉलर पर था, जो इससे पहले 71.95 डॉलर था।

Loading...