Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

डोनाल्ड ट्रंप का दावा – वुहान लैब से कोरोना वायरस के कनेक्शन के है मेरे पास सबूत

- Advertisement -
- Advertisement -

दुनिया भर में अब तक 32 लाख 57 हजार लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है। वहीं, 2 लाख 33 हजार लोग संक्रमण से जान भी गंवा चुके हैं। कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका है, जहां अब तक 10 लाख 70 हजार लोग संक्रमित हैं और 63 हजार लोगों की जान जा चुकी है।

इसी बीच जब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से जब पूछा गया कि क्या उन्होंने कुछ ऐसा देखा है जो उन्हें विश्वास दिलाता हो कि कोरोनावायरस का स्रोत वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ही था, इसपर वह बोले, ‘हां मेरे पास है।’ पत्रकारों ने उनसे पूछा कि वह क्या चीज है, इसपर ट्रंप बोले, ‘मैं आपको नहीं बता सकता।’

ट्रंप से जब उन रिपोर्ट्स के बारे में पूछा गया कि क्या वह चीन के लिए अमेरिकी ऋण दायित्वों को रद्द कर सकते हैं, जवाब में उन्होंने कहा कि वह इसे अलग और सटीक तरीके से कर सकते हैं। वह ऐसा भी कर सकते हैं लेकिन और पैसों के लिए वह टैरिफ बढ़ाएंगे। अमेरिका इससे पहले कह चुका है कि अगर चीन तय प्रावधानों का पालन नहीं करता है तो वह उसके साथ ट्रेड डील भी खत्म कर सकता है।

हालांकि, राष्ट्रपति ने इसके लिए चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग को जिम्मेदार नहीं ठहराया। कहा ‘मैं यह नहीं कहना चाहता, मैं यह कहना नहीं चाहता, लेकिन निश्चित रूप से बोलना बंद कर दिया। फिर कहा कि यह चीन से बाहर आया और इसे रोका जा सकता था और काश उन्होंने इसे रोका होता और इसी तरह पूरी दुनिया चाहती है उनके द्वारा इसे रोक दिया गया होता। यह दोहराते हुए कि यह कुछ ऐसा था कि जो वुहान के तक ही रुक सकता था।

उन्होंने कहा कि चीन इसमें शामिल हो सकता है। उन्होंने कहा कि या तो चीन इसे रोक नहीं सकता था या फिर रोकना नहीं चाहता था।…और अब आखिरकार पूरी दुनिया इसका खतरनाक परिणाम भुगत रही है। उन्होंने कहा सबसे प्रभावित यूरोपीय देश इटली का उदाहरण देते हुए कहा कि चीन ने किसी तरह का कोई कदम इस वायरस को रोकने के लिए नहीं उठाया।

उन्होंने कहा चीन द्वारा सभी विमानों और सभी यातायात को रोक दिया जाना चाहिए थे, लेकिन उन्होंने विमानों और यातायात को संयुक्त राज्य अमेरिका में और पूरे यूरोप में आने से नहीं रोका। उन्होंने कहा कि अमेरिका बहुत भाग्यशाली है और मैं बहुत खुशकिस्मत हूं कि मैंने चीन पर प्रतिबंध लगा दिया, जैसा कि आप जानते हैं, बहुत जल्दी। जनवरी में, हमने चीन पर प्रतिबंध लगा दिया और वह बहुत शुरुआती दिन थे। उन्होंने कहा कि फिर हमने बाद में यूरोप पर भी प्रतिबंध लगा दिया।

ट्रंप ने कहा कि सभी उपाये किए गए , सख्त फैसले भी लिए गए, लेकिन शायद उनसे कोरोना वायरस फैलने से नहीं रुक सका। ट्रंप ने कहा कि हमारे पास भविष्य में चीन को जवाब देने में बहुत कुछ होगा और इससे आगे बहुत कुछ तय होगा। यह पूछे जाने पर कि क्या राष्ट्रपति शी ने उन्हें गुमराह किया है, ट्रंप ने कहा, ‘कुछ हुआ तो है, लेकिन मैं इसे भ्रामक या सही नहीं कहता हूं। उम्मीद है कि बहुत जल्द जवाब दूं।’ उन्होंने कहा कि इसका परिणाम पूरी दुनिया को भुगतना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles