Wednesday, June 29, 2022

डोनाल्ड ट्रंप का दावा – कड़े रुख के चलते भारत अब व्यापार समझौते के लिए तैयार

- Advertisement -

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि अमेरिका के साथ भारत व्यापार समझौता करना चाहता है। उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में उनके प्रशासन के कड़े रुख के बावजूद भारत व्यापार समझौता को लेकर इच्छुक है।

ट्रंप ने अमेरिका को भी विकासशील देश बताते हुए कहा है कि उसे भी तेजी से विकास की जरूरत है। इस सिलसिले में डोनाल्ड ट्रंप उस सब्सिडी को समाप्त करना चाहते है जो भारत और चीन जैसी अर्थव्यवस्थाएं प्राप्त करती रही हैं। पीटीआई के मुताबिक ट्रंप ने कहा, ‘भारत से दूसरे दिन कॉल आया। उन्होंने कहा वे पहली बार व्यापार समझौता करना चाहते हैं।’ हालांकि ट्रंप ने यह नहीं बताया कि किसने किसको कॉल किया था।

ट्रंप ने कहा कि यदि भारत और चीन सरीखे देश तेजी से वृद्धि कर रहे हैं तो अमेरिका क्यों नहीं कर सकता। उन्होंने कहा, ‘ मैने उनसे कहा है, आपने व्यापारिक समझौता तय किया है. जब भारत और चीन 6, 7, 8 फीसदी की गति से बढ़ने के बावजूद मुश्किलों का सामना कर रहे हैं, तो हम कैसे 1 फीसदी की दर पर रह सकते हैं?’

modi bjp 1524108603 618x347

राष्ट्रपति ने शुक्रवार को साऊथ डकोता में एक कार्यक्रम में अपने समर्थकों के बीच कहा, ‘‘पूर्व सरकार के साथ उन्होंने इस बारे में कोई बात नहीं की। वे जो चीजें चल रही थी, उससे खुश थे।’’ इस बीच, अमेरिकी प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा है कि भारत द्वारा रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के बड़े सैन्य सौदे को लेकर अमेरिका भारत के साथ बातचीत जारी रखेगा।

गौरतलब है कि रूस से भारत करीब 4.5 अरब डालर में पांच एस-400 ट्रिउंफ मिसाइल हवाई रक्षा प्रणाली खरीदने की योजना बना रहा है। अमेरिका ने एक कानून के तहत रूस से हथियारों की खरीद पर रोक लगा रखी है. ऐसे में भारत के रूस के साथ हथियार सौदा करने से इस कानून का उल्लंघन माना जा रहा है।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles