Wednesday, December 8, 2021

कुवैत में उठी म्यांमार से रिश्तें खत्म करने और रोहिंग्यों की मदद करने की मांग

- Advertisement -

म्यांमार में रोहिंग्या मुस्लिमों पर हो रहे अत्याचार को लेकर कुवैत के सांसदों ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मौर्चा खोलते हुए म्यांमार से रिश्तें खत्म करने की मांग की है. रोहिंग्मा मुसलमानों के खिलाफ अत्याचारों पर कुवैत सरकार की चुप्पी को शर्मनाक करार दिया.

कुवैत की नेशनल असेंबली द्वारा आयोजित प्रेस सम्मेलन में कुवैती सांसदों ने अरब और इस्लामी देशों से आग्रह करते हुए कहा कि म्यांमार पर दबाव बढ़ाने के लिए तत्काल और ठोस कदम उठाये जाए.

कुवैती सांसद अब्दुल्ला अल-एंजी ने कहा कि म्यांमार के साथ कुवैत को सभी संबंधों को तोड़ देना चाहिए. वहीँ सांसद मोहम्मद अल-मुताइरी ने कहा कि कुवैत को रोहिंग्या मुस्लिमों को तत्काल मानवीय सहायता भेजनी चाहिए.

उन्होंने कहा, म्यांमार ने मुस्लिमों की रक्षा इस्लामी दुनिया की जिम्मेदारी है और म्यांमार में मानवता के खिलाफ हो रहे अपराधों को सभी ने देखा है.

कुवैती सांसदों ने इस बात को रेखांकित किया कि हिंसा रोकने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ा जानी चाहिए. कुवैत के उप विदेश मंत्री खालिद अल-जारलाह ने इस पर अपनी चिंता जाहिर की.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles