kabu

kabu

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल गुरुवार को बम धमाको से दहल उठा है. जिनमे कम से कम 41 लोगों की मौत हो गई. और 84 लोग घायल हो गए.

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नसरत रहीमी ने समाचार एजेंसी एफे को बताया कि यह विस्फोट कला-ए-नजर क्षेत्र में सुबह 10.30 बजे हुआ. रहीमी ने बताया कि पीड़ितों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ये हमला तबायान सांस्कृतिक केंद्र के भीतर हुआ. जिसमे अफगानिस्तान पर पूर्व सोवियत संघ के आक्रमण के 38 साल पूरे होने के मौके पर एक कार्यक्रम चल रहा था. यह केंद्र अफगान वॉइस एजेंसी के पास है.

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि इस आत्मघाती विस्फोट के बाद इलाके में दो और धमाके हुए. इस हमले की किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली. तालिबान ने भी बयान जारी कर कहा है कि वह इस हमले में शामिल नहीं है.

पुलिस ने कहा कि इलाके में कम से कम तीन आत्मघाती हमलावर मौजूद थे, जिन्होंने हमले में ग्रेनेड का भी इस्तेमाल किया. ज्यादा लोगों के गंभीर रूप से घायल होने की वजह से मृतकों की संख्या में वृद्धि होने की आशंका है.

काबुल में इससे पहले सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) के कार्यालय के पास आतंकी हमला हुआ था, जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई थी, जबकि दो घायल हो गए थे. आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी.