अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बीच डोनाल्ड ट्रंप को मारने की साजिश का दावा किया गया है। व्हाइट हाउस के उच्च अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रपति ट्रंप को जहर भेजने की कोशिश हुई। कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने एक पैकेट की छानबीन की जिसमें रिसिन नाम के जहर की पुष्टि हुई है।

अमेरिका की कानून प्रवर्तन एजेंसी के एक अधिकारी ने कहा कि पैकेज संभवतः कनाडा से अमेरिका भेजा गया है। जहरीले रिसिन युक्त इस पत्र को भेजने के शक में एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार कोई भी पत्र या पार्सल व्हाइट हाउस पहुंचती है, तो राष्ट्रपति तक पहुंचने तक उसकी गहन जांच की जाती है। जिस पर अंदेशा होता है उसे अलग कर लिया जाता है।

जांच अधिकारियों ने रिसिन को बहुत घातक जहर बताया है। उसकी थोड़ी सी मात्रा भी इंसान के लिए जानलेवा होती है। ये अरण्डी के बीज से निकाला जाता है। इसका इस्तेमाल पाउडर, गोली या तरल रूप में भी हो सकता है। इसकी 500 मिलीग्राम की मात्रा भी किसी इंसान की जान लेने के लिए काफी होती है।

कनाडा के सार्वजनिक सुरक्षा के मुख्य प्रवक्ता मैरी-लिज़ पावर ने एक बयान में कहा, “हम पैकेज की संबंधित रिपोर्टों से अवगत हैं। कनाडाई कानून प्रवर्तन एजेंसी अमेरिकी समकक्षों के साथ मिलकर काम कर रहा है। फिलहाल अभी जांच जारी है इसलिए अभी टिप्पणी नहीं कर सकते।”

यह खबर ऐसे समय में सामने आई है जब हाल ही में ईरान के अर्धसैनिक क्रांतिकारी गार्ड के प्रमुख ने इराक में अमेरिकी ड्रोन हमले के दौरान जनवरी में जनरल कासेम सोलेमानी की हत्या में भूमिका निभाने वालो को सीधी धमकी दी।

जनरल होसैन सलामी ने कहा, ट्रम्प! हमारे महान जनरल की शहादत का बदला स्पष्ट, गंभीर और वास्तविक है। उन्होने कहा, “हम उन लोगों को मारेंगे जिनकी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष भूमिकाएँ थीं। आपको पता होना चाहिए कि घटना में जिसकी भी भूमिका थी, वह निशाना बनेगा और यह एक गंभीर संदेश है। हम व्यवहार में सब कुछ साबित करते हैं। ”

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano