मस्जिदुल अक्सा में फिलिस्तीनियों की दुसरे दिन भी इसरायली सेनिको के साथ झड़प हुई हैं. जिसमे कई फिलिस्तीनियों के घायल होने की खबर हैं.

फिलिस्तीनियों ने इसरायली सेनिको पर जोर्डन द्वारा रमजान के महीने के लिए किये गए सुलह समझोते को तोड़ने का आरोप लगाते हुए कहा कि इजरायली सेनिकों ने मस्जिद अक्सा परिसर में प्रवेश करने वाले फ़िलिस्तीनियों पर अत्याचार करते हुए उन पर आंसू गैस के गोले फेंके और रबर की गोलियां चलाई हैं. इजरायली बलों की कार्रवाई में कई लोगों के घायल होने की खबर हैं. साथ ही इसरायली सेनिकों ने रविवार और सोमवार को दस लोगों को संदिग्ध करार देकर गिरफ्तार किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इजराइल ने कारवाई पर सफाई देते हुए कहा कि नकाबपोश युवकों की रात में मस्जिद में घुसने की सुचना मिली थी. जिसके बाद ये कारवाई की गई हैं.

दूसरी तरफ फिलिस्तीनियों का कहना हैं कि इजरायली अधिकारियों ने रमज़ान में ग़ैर मुसलमानों को भी मस्जिद अक्सा परिसर में प्रवेश करने की अनुमति दे रहे हैं और यह एक लंबे समय के परंपरा का उल्लंघन है जिसके तहत रमजान के अंतिम दशक में केवल मुस्लिम इबादत करने वालों को मस्जिद अक्सा में प्रवेश करने की अनुमति होती है.

Loading...