chu

chu

कोयंबटूर: हाल ही में कर्नाटक के सिरसी में भगवा संगठनों द्वारा जामा मस्जिद में तोड़फोड़ का मामला सामने आया था. अब कोयंबटूर में भगवा संगठनों के चर्च में जमकर तोड़फोड़ की. तोड़फोड़ करने वाले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े लोग बताए जा रहे है.

चर्च के पादरी ने बताया कि एक सरकारी शिक्षक सेल्वराज ने अपने परिवार के सदस्यों और 20 से ज्यादा आरएसएस कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर तोड़फोड़ की. साथ ही प्रार्थना के लिए आए ईसाई समुदाय के लोगों पर भी हमला किया. इस हमले में चर्च के पादरी भी घायल हुए है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पादरी कार्तिक के सिर पर चोट लगी, और एक महिला को फ्रैक्चर हुआ है. हालांकि बाकि लोगों के मामूली चोट आई है. पादरी कार्तिक ने बताया कि हमने कुछ भी गलत नहीं किया, बस हर साल की तरह, हम क्रिसमस का जश्न मनाने और गरीबों को कुछ चीजों को वितरित करना चाहते थे.

कार्तिक ने इस मामले में पुलिस सुरक्षा की मांग करते हुए कहा कि हमें सुरक्षा की आवश्यकता है और हम चाहते हैं कि पुलिस आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे. इस पुरे मामले में पुलिस ने कार्रवाई के बजाय पीड़ितों को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है.

कोयम्बटूर के विशेष शाखा इंस्पेक्टर लोगानथन ने कहा कि हमने कोई आधिकारिक शिकायत दर्ज नहीं की है, क्योंकि दोनों पक्षों की गलती है, हालांकि हम इस मामले की जांच कर रहे हैं.उन्होंने सांप्रदायिक हिंसा की रिपोर्टों को भी खारिज किया और कहा कि पादरियों को किसी भी बैठक का आयोजन करने की अनुमति नहीं थी, क्योंकि यह आवासीय क्षेत्र था.

Loading...