बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा के अरुणाचल प्रदेश दौरे को लेकर चीन अब तक भड़का हुआ हैं. उसने एक बार फिर से धमकी देते हुए कहा कि भारत को दलाई लामा का ‘तुच्छ खेल’ खेलना भारी पड़ेगा. साथ ही कहा कि आगे भी अगर ये खेल जारी रहता हैं तो भारत को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी.

दलाई लामा के अरुणाचल प्रदेश दौरे की प्रतिक्रियास्वरूप चीन पहले ही अरुणाचल प्रदेश के 6 जिलों के नाम बदलकर चीनी भाषा में अपने नक़्शे पर दिखा चूका हैं. इस पर वह भारत के विरोध को भी खारिज कर चूका हैं. चीन ने कहा है कि अरुणाचल प्रदेश के छह स्थानों को मानकीकृत आधिकारिक नाम देना उसका ‘कानूनी अधिकार’ है.

वहीँ अब सरकारी ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख कहा गया कि  दलाई लामा का कार्ड खेलना नई दिल्ली के लिए कभी भी अक्लमंदी भरा चयन नहीं रहा है. ‘अगर भारत यह तुच्छ खेल जारी रखना चाहता है तो यह इसके लिए सिर्फ भारी कीमत चुकाने के साथ ही खत्म होगा.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गोलाब्ल टाइम ने लिखा है, ‘दक्षिण तिब्बत ऐतिहासिक रूप से चीन का हिस्सा रहा है और वहां के नाम स्थानीय जातिय संस्कृति का हिस्सा हैं. चीनी सरकार के लिए स्थानों के मानकीकृत नाम रखना जायज है.’

Loading...