Sunday, December 5, 2021

उइगुर के खिलाफ अपनी लड़ाई में चीन ने मांगा तुर्की से समर्थन

- Advertisement -

चीन ने तुर्की के झिंजियांग के सुदूर पश्चिमी क्षेत्र में सक्रिय उग्रवादियों के खिलाफ अपनी लड़ाई का समर्थन करने के लिए तुर्की से आह्वान किया है। बता दें कि तुर्की ने उइगुर मुस्लिमों के चीन की कार्रवाई की तीखी आलोचना की थी।

चीन ने झिंजियांग में उग्रवाद से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किया है। जो उइगुर लोगों के लिए एक जेल है। जिसे कई पश्चिमी देश नजरबंद शिविरों के रूप में देखते हैं। तुर्की एकमात्र मुस्लिम राष्ट्र है जिसने फरवरी में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में झिंजियांग की स्थिति के बारे में नियमित रूप से चिंता व्यक्त की है।

चीनी सरकार के शीर्ष राजनयिक स्टेट काउंसिलर वांग यी ने बीजिंग में तुर्की के उप विदेश मंत्री सेदत ओनल से मुलाकात करते हुए एक बयान में कहा कि चीन तुर्की के साथ अपने संबंधों पर बहुत अच्छा प्रभाव डालता है। मंत्रालय ने कहा कि चीन ने हमेशा तुर्की की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान किया है, और राष्ट्रीय सुरक्षा और स्थिरता की रक्षा के लिए तुर्की के प्रयासों का समर्थन करता है।

china muslim ramzan 200 1526558290

वांग ने कहा, “यह आशा की जाती है कि तुर्की पक्ष भी राष्ट्रीय संप्रभुता और सुरक्षा की रक्षा में चीन के प्रमुख हितों का सम्मान कर सकता है, और ‘पूर्वी तुर्किस्तान’ आतंकवादी ताकतों का मुकाबला करने और दोनों देशों के बीच रणनीतिक सहयोग की समग्र स्थिति की रक्षा करने के चीन के प्रयासों का समर्थन कर सकता है।”

चीन ने झिंजियांग में हाल के वर्षों में हुए हमलों के लिए पूर्वी तुर्किस्तान इस्लामिक मूवमेंट नामक एक समूह को दोषी ठहराया। लेकिन कई राजनयिकों और विदेशी विशेषज्ञों ने इस बात पर संदेह किया है कि क्या समूह किसी भी सुसंगत रूप में मौजूद है।

विदेश मंत्रालय ने ओनली का हवाला देते हुए कहा कि तुर्की राष्ट्रीय एकता की रक्षा और “आतंकवादी ताकतों” से निपटने के चीन के प्रयासों का समर्थन करता है और चीन के साथ व्यावहारिक सहयोग को गहरा करने के लिए तैयार है।शिनजियांग में हाल के वर्षों में अशांति में सैकड़ों लोग मारे गए हैं।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles