चीन ने दुनिया भर के मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करते हुए मध्य चीन के ननचांग शहर में मुस्लिमों के पवित्र शहर मक्का में स्थित काबा शरीफ की नक़ल बनाने का फैसला किया हैं. चीन के इस फैसले पर सऊदी अरब ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उन्होंने अपने इस फैसले को नहीं बदला तो अमेरिका की तरह चीन भी 9/11 जैसे हमले के लिए तैयार हो जाये.

न्यूज चैनल’अल जजीरा’ के मुताबिक सलमान बिन अब्दुल अजीज ने कहा है कि अगर चीन ने मक्का की रेपलिका का फैसला वापस नहीं लिया तो हालात 9-11 जैसे होंगे.

चीन में पर्यटन मंत्री हू यान चाओ ने खुद इसके निर्माण की जिम्मेदारी ली है. चीन ने कहा है कि वह 2016 तक मक्का के हूबहू इमारत का निमार्ण पूरा कर लेगा. उन्होंने बताया कि इसे बनाने में करीब 20 करोड़ यूआन (करीब 2 अरब रुपए) का खर्च आएगा.

इसका निर्माण मध्य चीन के ननचांग शहर के पास होगा. यह शहर फेमस इमारतों की नकल के लिए जाना जाता है. यहां पहले से ही पेरिस के एफिल टॉवर, लंदन के टॉवर ब्रिज और अमेरिका की स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी की नकल मौजूद है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें