चीन और भारत के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है, डोकलाम में चीनी सेना की घुसपेठ के बाद अब लद्दाख में चीनी सेना घुसपेठ कर मामले को और तनावपूर्ण बना दिया है.

इसी बीच चीन ने इस पुरे विवाद के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. ग्लोबल टाइम्स ने लिखा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका दौरे के बाद से ही चीन के साथ टकराव का रास्ता चुना है. अखबार ने आरोप लगाया कि डोकलाम क्षेत्र में भारत लगातार सेना की मौजूदगी को बढ़ा रहा है. साथ ही कहा गया कि भारत बीजिंग और वॉशिंग्चन के बीच मतभेद का फायदा उठाना चाहता है.

अखबार में लिखा गया कि मोदी ने टकराव का रास्ता चुना है क्योंकि उन्हें लगता है कि चीन को चुनौती देकर वो दक्षिण एशिया में भारत का दबदबा बनाए रख सकते हैं.

वहीँ अमेरिका भारत के जरिए चीन को चुनौती देना चाहता है, मोदी इसी का फायदा उठाकर अमेरिका के साथ राजनीतिक और सामरिक क्षेत्र में सहयोग बढ़ाना चाहते हैं.

हालांकि अमेरिका ने डोकलाम विवाद को लेकर चीन और भारत पर एक दूसरे से बातचीत करने का जोर देते हुए कहा कि हमारे संबंध दोनों देशों के साथ हैं और हम दोनों पक्षों को बातचीत करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?