putinn

सीरिया के घोउता में कथित केमिकल अटैक को लेकर संशय बना हुआ है. एक तरह अमेरिका का दावा है कि केमिकल अटैक हुआ है तो वहीँ रूस का कहना है कि केमिकल अटैक का दावा निराधार है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को दो टूक कहा कि अगले 24 से 48 घंटों के भीतर सीरिया पर बड़ा फैसला लिया जाएगा. माना जा रहा है कि ट्रंप मिसाइल हमले का आदेश दे सकते हैं.

वहीँ दूसरी और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि रूसी विशेषज्ञों को सीरियाई विद्रोहियों के कब्जे वाले शहर डौमा से रासायनिक हमले के कोई निशान नहीं मिले हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

syrian governmentsyriachemicalgasattack

उन्होंने कहा , ‘हमारे सैन्य विशेषज्ञों ने इस स्थान का दौरा किया है और उन्हें असैनिकों के खिलाफ क्लोरीन या किसी अन्य रासायनिक पदार्थ का इस्तेमाल किए जाने का निशान नहीं मिला है.’

उन्होंने यह भी कहा कि सीरियाई हवाई ठिकाने पर हमला बेहद गंभीर घटनाक्रम है. इस हमले के लिए दमिश्क और मॉस्को ने इजरायल को जिम्मेदार ठहराया है. लावरोव ने संवाददाता सम्मेलन में कहा , ‘मुझे उम्मीद है कि कम से कम अमेरिकी सेना और अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल देश इसको समझेंगे.’

Loading...