pri

pri

भारत में शरणार्थी के तौर पर रह रहे रोहिंग्या मुस्लिमों को लेकर ब्रिटेन की वरिष्ठ मंत्री प्रीति पटेल ने भारत सरकार के रुख की कड़ी आलोचना की है.

ध्यान रहे केंद्र की मोदी सरकार रोहिंग्या मुस्लिमों को सुरक्षा के लिए खतरा करार देते हुए देश से निकालने की तैयारी कर चुकी है. हालांकि मामला सर्वोच्च अदालत में लंबित होने के कारण कोई फैसला नहीं हुआ है.

भारतीय मूल की प्रीति पटेल ने बीबीसी से बातचीत में कहा कि ”मुझे लगता है कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि उन्हें अपने घर चले जाना चाहिए. ज़मीनी हालात को देखें. 5 लाख से ज्यादा लोगों को परेशान किया जा रहा है. रखाइन प्रांत से एक वर्ग के लोग जा रहे हैं. ये लोग किसी कारण से जा रहे हैं.”

हालांकि इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तारिफ की. उन्होंने मोदी को प्रेरणादायक नेता बताते हुए कहा कि वह भारत की रूपरेखा और आवाज़ को वैश्विक और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उठाने वाले एक प्रेरणादायक नेता हैं. उन्होंने बताया, वो मोदी की दुनियाभर में यात्रा करके भारत में नए निवेश को बढ़ाने के लिए किए गए प्रयासों से प्रभावित हैं.

सेक्रेटरी ऑफ स्टेट फोर इंटरनेशनल डेवलपमेंट पद पर तैनात प्रीति ने अर्थव्यवस्था में आई मंदी को लेकर मोदी की देश में हो रही आलोचना को भी खारिज  किया और कहा, राजनेता की आलोचना आसानी से हो जाती है. अर्थव्यवस्था और उनके देश की वैश्विक पहचान को लेकर किए गए बदलावों के लिए नेताओं को कभी सम्मान नहीं मिलता.”

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?