bosसाराजेवो: बोस्निया की यूनिवर्सिटी ऑफ साराजेवो में मुस्लिम छात्रों को शुक्रवार के दिन नमाज के लिए छुट्टी की इजाजत दी गई हैं.

यूनिवर्सिटी ने मुस्लिम छात्रों को नमाज के लिए 1 घंटे और 30 मिनिट तक की छुट्टी देने का फैसला किया है. बोस्निया में मुस्लिम समुदाय की अच्छी खासी आबादी हैं. 2013 के जनगणना आंकड़ाें के अनुसार देश की कुल आबादी में आधे मुसलमान हैं. ऐसे में यूनिवर्सिटी ने कहा कि यह निर्णय मानव अधिकार और सांप्रदायिक स्वतंत्रता का सम्मान करने के उद्देश्य से लिया गया है.

यूनिवर्सिटी के इस फैसले को लेकर दक्षिणपंथीयों ने हंगामा मचाना शुरू कर दिया हैं. बोस्नियाई सरब एन्टिटी रिपब्लिक सर्पस्का के अध्यक्ष मिलोराड डोडिक ने कहा है कि जब शनिवार और रविवार को कैथोलिक और आर्थोडॉक्स छात्रों को प्रार्थना करने के लिए कक्षाएं नहीं रोकी जातीं तो मुसलमानों के लिए ऐसा क्यों किया जा रहा है.

उन्होंने विश्वविद्यालय के इस कदम को तेजी बढ़ते इस्लामिक स्टेट का प्रभाव बताया है. वहीँ वामपंथी और उदारवादी सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी (एसडीपी) ने भी इस फैसले की निंदा की हैं.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें