देश में बड़ते इस्लामोफ़ोबिया से मुक़ाबले के लिए कनाडा के हाउस ऑफ कॉमन्स ने एक बिल पास किया हैं. जिससे अब देश के मुसलमानों को नफरत भरे वातावरण से निजात मिल जाएगी.

फ़्रांस प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो के समर्थन से पेश किये गए इस बिल को गुरुवार को पारित किया गया. इस दौरान कनाडाई सरकार से कहा है कि इस्लामोफ़ोबिया के विभिन्न स्वरूपों जैसे कि धार्मिक भेदभाव, घृणा और सिस्टमैटिक राष्ट्रवाद से मुक़ाबले के लिए गंभीर क़दम उठाए.

कनाडाई हाउस ऑफ कॉमन्स ने देश की सरकार से कहा है कि इस्लाम के ख़िलाफ़ जारी प्रचार को रोके और इस्लाम विरोधी गतिविधियों की निंदा भी करे. इस बिल के पास होने से कनाडाई सरकार की ज़िम्मेदारी बनती है कि वह धार्मिक भेदभाव एवं इस्लामोफ़ोबिया का मुक़ाबला करे और सिस्टमैटिक राष्ट्रवाद पर रोक लगाये.

याद रहे पिछले दिनों कनाडा की क्विबेक शहर की एक मस्जिद में गोलीबारी हुई थी. जिसके बाद कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने स्पष्ट रूप से कहा था कि ‘कनाडा के मुस्लिम नागरिक भी हमारे देश का अहम हिस्सा हैं. इस तरह की हिंसा की हमारे समाज, शहर और देश में कोई जगह नहीं है. विविधता ही हमारी ताकत है. धार्मिक सद्भाव और सहिष्णुता का हम कनाडा के लोग काफी सम्मान करते हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?