Tuesday, December 7, 2021

सऊदी महिलाओं को लेकर बड़ी खबर

- Advertisement -

रियाध: अभी पिछले दिनों सऊदी महिलाओं को ड्राइविंग प्रतिबन्ध खत्म होने की चर्चाये समाप्त भी नही हुई थी की सऊदी अरब ने फिर एक बड़ा धमाका कर दिया है, गौरतलब है दुनियाभर में सऊदी महिलाओं को कड़े प्रतिबंधों के बीच जीवन यापन करने वाली महिलाओं के तौर पर प्रदर्शित किया जाता है.

इन्ही सवालों का जवाब देते हुए शौरा कौंसिल ने एक बड़ा फैसला लिया. महिला मुफ़्ती को शाही परिषद् के द्वारा चुना जायेगा.

अपनी 49वी मीटिंग में शौर परिषद् ने एक सदस्य द्वारा की गयी सिफारिश को मंज़ूर किया, जिसके अंतर्गत महिलाओं के लिए स्वतंत्र वर्गों को खोलने के लिए राज्य में फतवा जारी करने का अधिकार दिया गया.

परिषद् की महिला सदस्यों ने पिछले मार्च में मांग की थी की फतवा जारी करने का विशेषधिकार सिर्फ पुरुषों तक ही सिमित नही रहना चाहिए, इसमें महिलाओं को भी सम्मिलित करना चाहिए.

परिषद ने सामान्य प्रेजिडेंसी को फतवा जारी करने के लिए विशेषज्ञों को नियुक्त करने के लिए कहा था, और आवश्यक मानव और भौतिक आवश्यकताओं को प्रदान करने के लिए, इसके कुछ कार्यों में इस्लामी शरीयत विज्ञान में विशेषज्ञों को शामिल करने के लिए कहा था। सबसे अच्छी बात इसमें यह रही की शौरा परिषद् के इस फैसले को इस्लामी विशेषज्ञों द्वारा भारी बहुमत के साथ स्वागत किया गया.

राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए नाइफ कॉलेज के प्रोफेसर साद अल-क्वई ने अल हयात के अखबार को बताया कि इस्लामिक न्यायशास्त्र में महिलाओं की भागीदारी और वैज्ञानिक गतिविधियों में उनकी भागीदारी राज्य में महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक थी।

“विद्वानों के अनुसंधान और इफ्टा की जनरल प्रेसीडेंसी में महिलाओं के काम की पुष्टि इस्लामी कानून और न्यायशास्त्र की एक महत्वपूर्ण आवश्यकता है। उन्होंने कहा है कि लिंग के संतुलन के लिए लाभ लाने पर बुराइयों को दूर करने के नियमों को प्राथमिकता दी जाती है, बिना यह भूल कर कि हर एक की अपनी भूमिका है। “

उन्होंने यह भी कहा कि “सामान्य प्रेसीडेंसी में महिलाओं का काम विज्ञान और जागरुकता फैलाने के क्षेत्र में होगा।”

उन्होंने कहा कि सिफारिशों को नए क्षितिज खोलने के लिए महिलाओं के बीच बेरोजगारी की समस्या को सुलझाने का संबंध है, महिलाओं के अधिकार की गारंटी देने के लिए लचीला और सुरक्षित काम करने का माहौल है, जैसा कि शरीयत ने अनुमति दी है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles