amit shah 650x400 51522131603

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के राजस्थान के सवाई माधोपुर में बांग्लादेशी घुसपैठियों को दीमक बताने को लेकर बांग्लादेश भड़क उठा है। बांग्लादेश के मंत्री ने कहा कि शाह को भारत-बांग्लादेश रिश्तों के बारे में समझ नहीं है।

बांग्लादेश सरकार के वरिष्ठ मंत्री इनु ने कहा कि बांग्लादेशियों को दीमक बताकर और उन पर भारत में घुसपैठ का आरोप लगाकर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गैरजरूरी टिप्पणी की है।

द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, सूचना मंत्री हसनुल हक इनु ने कहा कि शाह भारत-बांग्लादेश के रिश्तों पर बोलने के योग्य नहीं हैं और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ढाका को आश्वासन दिया है कि राष्ट्रीय नागरिकता पंजीकरण (एनआरसी) की प्रक्रिया से असम में जिन लोगों को बाहर रखा गया है, भारत उन्हें वापस बांग्लादेश नहीं भेजेगा।

बता दें पिछले सप्ताह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राजस्थान में सवाई माधोपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि बांग्लादेशी घुसैपठिए हमारे देश की चुनाव व्यवस्था को खाए जा रहे हैं। एनडीए सरकार ने राष्ट्रीय नागिरक पंजीकरण (एनआरसी) के जरिए 40 लाख ऐसे घुसपैठियों को पहचान कर देश से बाहर निकालेगी।

शाह के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बांग्लादेश के मंत्री ने कहा कि बीजेपी चीफ को शायद पता तक नहीं है कि असम में एनआरसी मुद्दे पर दोनों देशों के बीच आधिकारिक वार्ता भी हो चुकी है। बांग्लादेश में भारत के राजदूत वर्द्धन श्रींगला ने कहा कि असम एनआरसी का मुद्दा भारत की आंतरिक समस्या है और किसी भी बंगाली भाषी नागरिक को देश से नहीं निकाला जाएगा।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें