ओडिशा के कालाहांडी में आदिवासी शख्‍स दाना मांझी को एम्बुलेंस नहीं मिलने के कारण अपनी बीवी की लाश कंधे पर रखकर 12 किलोमीटर पैदल चलने वाली खबर ने अरब मुल्क बहरीन के प्रधानमंत्री की रुंह को झकझोर कर दिया हैं.

गल्फ न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार बहरीन के प्रधानमंत्री ख़लीफ़ा बिन सलमान अल-ख़लीफ़ा ने टी○वी○ पर जब दाना मांझी को पत्नी का शव उठाए 12 कि○मी○ चलते हुए की ख़बर देखी तो उन्हें बहुत अफ़सोस हुआ अौर फिर उन्होंने मांझी मदद करने के लिए उसकी इच्छा व्यक्त की है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्रधानमंत्री ख़लीफ़ा बिन सलमान अल-ख़लीफ़ा के आदेश पर बहरीन प्रधानमंत्री कार्यालय ने भारत स्थित बहरीन दूतावास को संपर्क कर दाना माँझी के परिवार को आर्थिक मदद करने का आदेश दिया.

हालांकि इस बारें में अभी ख़ुलासा नहीं हुआ कि बहरीन प्रधानमंत्री दाना माँझी को मदद के तौर पर कितनी रक़म देने का फैसला किया.

Loading...