बहरीन ने ईरान के साथ बातचीत जारी रखने पर जोर दिया हैं. इसके लिए वह कुवैत की मदद ले सकता हैं. इस बारें में बहरीन के विदेशमंत्री शैख खालिद बिन आले अहमद आले खलीफा ने कहा कि दोनों देशों के बीच बातचीत जारी रहनी चाहिए.

कुवैत की यात्रा के दौरान उन्होंने पत्रकारों से कहा कि बहरीन कुवैत नरेश के माध्यम से तेहरान के साथ होने वाले संयुक्त विचार- विमर्श का समर्थन करता है और इस्लामी गणतंत्र ईरान के साथ राजनीतिक वार्ता को जारी रखेगा. उन्होंने कहा कि को आशा है कि यह विचार- विमर्श सकारात्मक परिणाम तक पहुंचेगा.

उन्होंने कहा कि फार्स खाड़ी के अरब देशों के नेताओं की आगामी बैठक में तेहरान के साथ संबंधों में होने वाले परिवर्तनों के संबंध में एक रिपोर्ट भी पेश करेंगे. साथ ही उन्होंने आशा जताई कि शीघ्र ही तेहरान और फार्स खाड़ी की सहकारिता परिषद के मध्य बैठक आरंभ होगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ ईरान का मानना है कि क्षेत्रीय देशों के साथ सहकारिता को मजबूत बनाने की दिशा का सबसे पहला कदम क्षेत्र में शांति व सुरक्षा स्थापित करने के बारे में ईरान की अपरिहार्य भूमिका को स्वीकार करना और उस पर निराधार आरोपों को मढ़ने से बचना है

Loading...