बग़दाद | दुनिया के सबसे खूंखार आतंकवादी संगठन ISIS , अब ईराक में सिकुड़ रहा है. इराकी सेनाओ द्वारा ISIS के गढ़ माने जाने वाले मोसुल शहर पर कब्जे के बाद ISIS ने लगभग अपनी हार स्वीकार कर ली है. उनके नेता और ISIS प्रमुख अबू बकर अल बगदादी ने अपनी हार मानते हुए सभी लडाको को अपने वतन लौटने का आदेश दिया है.

इराकी टीवी नेटवर्क अलसुमारिया ने अल अरबिया रिपोर्ट के हवाले से बताया की बगदादी ने ISIS कार्यालय से एक विदाई सन्देश अपने सभी लडाको के पास भिजवाया है. इसके अलावा ISIS प्रचारको और मौलवियों के पास भी इस सन्देश को वितरित किया गया है. इस सन्देश में बगदादी ने सभी लडाको को आदेश दिया है की वो अपने वतन लौट जाए और वहां खुद को बम से उड़ा ले.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस सन्देश में बगदादी ने सभी लडाको से वादा किया है की मरने के बाद उनको जन्नत नसीब होगी और वहां 72 महिलाए उनका स्वागत करेगी. रिपोर्ट में यह भी कहा गया की इराकी सेनाओं के हमले के बाद बगदादी गंभीर रूप से घायल हो गया है. मोसुल पर कब्जा होते ही ISIS के कई लड़ाके और नेता सीरिया भाग गए. मालूम हो की सीरिया के पूर्वी भाग पर फिलहाल ISIS का कब्ज़ा है.

मोसुल में हुई हार से परेशान बगदादी किसी भी तरीके से ISIS को डर को कायम रखना चाहता है. इसलिए उसने सभी लडाको से खुद को विस्फोट से उडाने की अपील की है. गौरतलब है की ISIS ने बगदादी की अगुवाई में सीरिया के पूर्वी भाग और ईराक के उत्तरी भाग पर कब्ज़ा कर लिया था. इसके बाद बगदादी ने खुद को खलीफा घोषित कर दिया. फिलहाल अमेरिका ने बगदादी के सर पर ढाई करोड़ डॉलर का इनाम रखा हुआ है.

Loading...