saudi woman driving (1)

जेद्दाह – सऊदी महिलाओं से ड्राइविंग प्रतिबन्ध हटाने के ऐतिहासिक फैसले के बाद से, जिस बात का डर प्रवासी नागरिकों को सता रहा था वैस ही कुछ होने जा रहा है. गल्फ न्यूज़ में प्राकशित खबर के अनुसार महिलाओं के ड्राइविंग लाइसेंस मिलने के बाद से उन प्रवासी कर्मचारियों की नौकरी पर खतरा मंडरा रहा है जो सऊदी अरब में ड्राइविंग की सेवा दे रहे है.

गौरतलब है की अभी तक सऊदी महिलायें विदेशी चालकों पर निर्भर है लेकिन इस निर्णय के बाद से वो महिलायें खुद ड्राइविंग करने में अधिक रूचि दिखा रही हैं. आंकड़ों पर अगर नज़र डाले तो पता चलता है की सऊदी अरब में कुल मिलकर लगभग 1.4 मिलियन चालक हैं, जो विदेशी घरेलू कामगारों के 60 फीसदी हिस्सेदारी निभाते हैं।

मीडिया की खबर के अनुसार काफी विदेशी चालकों ने बताया की उन्हें इस बात का काफी डर सता रहा है की उनकी नौकरी चली जाएगी और उन्हें वापस घर जाना पड़ सकता है. समीर अब्बास अस्पताल में काम करने वाली कार्यकारी सचिव धाई मोधाब ने कहा की अगर मुझे गाड़ी चलाने की इजाज़त मिल जाती है तो मैं क्यों ड्राईवर एफ्फोर्ड करूं. मैं खुद गाडी ड्राइव करूंगी तो मेरा पैसा भी बचेगा और किसी भी समय घर से बाहर जा सकती हूँ”

औसतन, सऊदी अरब में ड्राइवरों को एक महीने का वेतन 1,500-2,200 रियाल (25,000 से 35,000 रुपए) के बीच होता है। जो की काफी परिवारों की रोज़ी रोटी चलाने के काम आता है. स्थानीय विश्लेषकों के मुताबिक, चालक अपनी आय का लगभग 60 प्रतिशत अपने देश में भेजते हैं, जो सामूहिक रूप से अनुमानित 1.23 अरब सऊदी रियाल मासिक के बराबर है।

नयी दिल्ली के अनवर जो चार वर्ष से यहाँ ड्राईवर की नौकरी करते हैं, उन्होंने कहा की एक बार वो यहाँ से वापस दिल्ली चले गये थे लेकिन वहां काम अधिक और मेहनताना कम होने के कारण वापस सऊदी आ गये, लेकिन अब मुझे चिंता सता रही है की कंपनी अब उन्हें वापस दिल्ली भेज देगी.”

वहीँ दूसरी तरफ कुछ सऊदी यह शिकायत करते हुए भी नज़र आते है की महिलायें लगभग हर चीज़ के लिए चालकों

पर निर्भर करती हैं, कई चालकों ने उनका लाभ उठाया था। कुछ ड्राइवर कथित तौर पर उनके फोन का जवाब नहीं देते, सप्ताहांत पर काम करने से इनकार करते हैं, या ट्रैफिक टिकट अर्जित करते हैं.

एक्सपर्ट्स का कहना है की विदेश से एक प्रवासी चालक को काम पर रखना ना सिर्फ एक लम्बी और थकाऊ प्रक्रिया है बल्कि जो परिवार ड्राईवर को रखते हैं उन्हें टैक्स भी देना होता हैं. ऐसे में परिवार उनका अनुबंध री-न्यू कराना नही चाहेंगे. इसमें लगभग 10,000 से 12,000 सऊदी रियालों के परिवार का खर्च आता है, जिसमें सरकार, भर्ती कार्यालय और वीजा शुल्क, चिकित्सा फिटनेस परीक्षण और हवाई टिकट शामिल हैं।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें