ऑस्ट्रेलिया के रक्षा बलों के प्रमुख ने गुरुवार को ऑस्ट्रेलियाई विशेष बलों के हाथों 39 अफ़ग़ान बेगुनाहों की हत्या के मामले में अफ़गान और उनके देशवासियों से माफी मांगी। इस हत्या का हाल ही में एक जांच में खुलासा हुआ है।

जनरल एंगस कैंपबेल ने ट्विटर पर कहा, “ऑस्ट्रेलियाई रक्षा बल की ओर से, अफगानिस्तान के लोगों से, मैं ईमानदारी से और अनौपचारिक रूप से ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों द्वारा किसी भी गलत काम के लिए माफी मांगता हूं।”

उन्होंने कहा, “ऑस्ट्रेलिया के लोगों के लिए, मुझे ऑस्ट्रेलियाई रक्षा बल के सदस्यों द्वारा किसी भी गलत काम के लिए ईमानदारी से खेद है। आपको यह उम्मीद है कि आपका रक्षा बल आपके राष्ट्र और उसके हितों की रक्षा हमारे राष्ट्र के मूल्यों और कानूनों के साथ करेगा।”

बीबीसी के अनुसार, ऑस्ट्रेलियाई डिफ़ेंस फ़ोर्स की रिपोर्ट के अनुसार, 2009 से 2013 के बीच अफ़ग़ानिस्तान में मौजूद ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों ने 23 अलग-अलग घटनाओं में 39 आम अफ़ग़ान शहरियों की हत्या की। मेजर जनरल (जस्टिस) पॉल ब्रेरेटन के नेतृत्व में इन सभी वारदातों की जाँच की गई।

जाँच के दौरान पॉल ब्रेरेटन ने पाया कि ‘जिन जूनियर सैनिकों ने कभी किसी की हत्या नहीं की थी, उनसे कहा गया कि वो क़ैदियों को गोली मारकर अपना हाथ साफ़ कर सकते हैं। उन्होंने पाया कि ‘अपने अपराध को छिपाने के लिए ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों ने मारे गये बेगुनाह अफ़ग़ान लोगों के आसपास जानबूझकर बंदूक़ें और अन्य हथियार रखे ताकि कहानी को बदला जा सके।’

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano