Sunday, September 19, 2021

 

 

 

ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिमी यरुशलम को इज़राइल की राजधानी के तौर पर दी मान्यता

- Advertisement -
- Advertisement -

ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिमी यरुशलम को इज़राइल की राजधानी के तौर पर मान्यता दे दी है. प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने इसकी घोषणा की लेकिन साथ ही कहा कि तेल अवीव से दूतावास को तब तक स्थानांतरित नहीं किया जाएगा जब तक कोई शांति समझौता नहीं हो जाता.

मॉरिसन ने भविष्य में पूर्वी यरुशलम को फलस्तीन की राजधानी के तौर पर मान्यता देने की भी प्रतिबद्धता जताई. मॉरिसन ने सिडनी में एक भाषण में कहा, “नेसेट और कई सरकारी संस्थान वहां स्थित होने के कारण ऑस्ट्रेलिया पश्चिमी यरुशलम को इज़राइल की राजधानी के तौर पर मान्यता देता है.”

मॉरिसन ने कहा, “हम पश्चिम यरुशलम में दूतावास खोलने को लेकर उत्साहित हैं.” उन्होंने कहा कि दूतावास के लिए नए स्थान पर काम चल रहा है. इस बीच, प्रधानमंत्री ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया पवित्र शहर के पश्चिम में रक्षा और व्यापार कार्यालय स्थापित करेगा.

palestinian israel jerusalem islam aqsa
A picture taken on January 10, 2018

प्रधानमंत्री ने ये भी कहा कि पश्चिम एशिया में ‘उदार लोकतंत्र’ का समर्थन करना ऑस्ट्रेलिया के हित में हैं। साथ ही उन्होंने संयुक्त राष्ट्र की आलोचना करते हुए कहा कि उस जगह पर इज़रायल को ‘तंग’ किया गया. हालांकि ऑस्ट्रेलिया को इस फैसले मुस्लिम बहुल देश जैसे इंडोनेशिया, मलेशिया आदि के रोष का सामना कर पड़ा। अरब देशों का कहना है कि इससे पश्चिम एशिया में हालात बिगड़ जाएंगे.

बता दें कि ईसाई, मुस्लिम और यहूदियों के लिए पवित्र माना जाने वाला ‘यरुशलम’ फलस्तीन और इजरायल के बीच विवाद का प्रमुख कारण है. दोनों ही देश उसपर अपनी संप्रभुता चाहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles