asi

इस्लाम धर्म के पैगंबर हजरत मुहम्मद (सल्ल.) की शान में कथित गुस्ताखी के आरोप से बरी हुई ईसाई महिला आसिया बीबी के पाकिस्तान छोड़े जाने की खबर को पाकिस्तान की सरकार ने गुरुवार को खारिज कर दिया। सरकार की और से कहा गया, आसिया बीबी को बुधवार की रात मुलतान के कारावास से मुक्त किया गया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा, “आसिया (बीबी) पाकिस्तान में सुरक्षित स्थान पर हैं। वह अब आजाद नागरिक हैं। याचिका अदालत में है।” उन्होंने कहा कि पुनरीक्षण याचिका पर अदालत में फैसला होने के बाद बीबी जहां चाहे वहां जाने को स्वतंत्र हैं।

उन्होंने कहा, “ऐसा करने से उनको कोई नहीं रोकेगा। एक आजाद नागरिक जहां जाना चाहे वहां जा सकता है। वह पाकिस्तानी प्राधिकार से प्रसन्न है। पाकिस्तान सरकार उनकी रक्षा के लिए तत्पर है।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सूचना एवं प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने आसिया बीबी के देश छोड़ने के बारे में बगैर पुष्टि के खबर प्रसारित करने के लिए कुछ मीडिया संस्थानों के व्यवहार को गैर-जिम्मेदाराना बताया।

चौधरी ने ट्वीट के जरिए कहा, “सुर्खियों के लिए फर्जी खबर प्रसारित करना सामान्य नियम बन गया है। आसिया बीबी का मसला संवदेनशील है। पुष्टि किए बगैर उनके देश छोड़ने की खर प्रसारित करना काफी गैर-जिम्मेदार व्यवहार है। मैं मीडिया के एक वर्ग से जिम्मेदार व्यवहार करने की अपील करता हूं।”

वहीं इस्लामी पार्टी तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के प्रवक्ता इजाज अशरफी ने ट्वीट के जरिए कहा कि सरकार के किसी विभाग ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि बीबी विदेश चली गई हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने भरोसा दिलाया है कि पुनरीक्षण याचिका पर आदेश आने तक वह देश में ही रहेंगी।

Loading...