अमरीका की “डील ऑफ़ द सेन्चरी” को लेकर फिलिस्तीन का कहना है कि यह नाकाम तो हो गई है। लेकिन फिलहाल खतरा पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है।

वफ़ा न्यूज़ के अनुसार, फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रवक्ता नबील अबू रुदैना ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प की “डील ऑफ़ द सेन्चरी” जिसका बड़ा प्रचार हुआ था, फ़िलिस्तीनी जनता की दृढ़ता से नाकाम हो गयी। लेकिन इस साज़िश के क्षेत्र के लिए अप्रत्यक्ष प्रभाव हो सकते हैं।

रुदैना ने कहा कि इस समय क्षेत्र, अपनी जनता के हित से जुड़े मुख्य मुद्दों के भविष्य के संबंध में फ़ैसला लेने के लिए निर्णायक मोड़ पर खड़ा है। यह भविष्य कुछ पक्षों के राष्ट्रवादी दृष्टिकोण से संबंध तोड़ने की वजह से जोखिम में पड़ सकता है।

उन्होंने फ़िलिस्तीनियों और अरब देशों से अपील की कि वे “डील ऑफ़ द सेन्चरी” को क्षेत्रीय समझौते का रूप धारण करने से रोकने के लिए, कि जिसके अप्रत्यक्ष प्रभाव के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता, राष्ट्रीय हितों के संबंध में एकजुट रहें।

बता दें कि “डील ऑफ़ द सेन्चरी” के तहत अमेरिका बैतुल मुक़द्दस पर इजरायल के दावे को स्वीकार करता है। रुदैना ने इस पर जब तक बैतुल मुक़द्दस जलता रहेगा, अरब जगत जलता रहेगा।”