bakir1

bakir1

सीरिया में कुर्दों के खिलाफ शुरू किये गए ऑपरेशन ओलिव के चलते तुर्की और अमेरिका के रिश्तों में खटास बढ़ती ही जा रही है. तुर्की पहले ही अमेरिका को अपने सैनिको को वापस लेने की चेतावनी दे चूका है. लेकिन अब तुर्की ने अमेरिकी सैनिकों पर सीधे हमले की धमकी दी है.

तुर्की के उप प्रधानमंत्री बकीर बूज़दाग़ ने रविवार को एक बयान में कहा कि अमरीका को उत्तरी सीरिया में तुर्की की संवेदनशीलता से अवगत होना चाहिए. उन्होंने कहा कि अमरीकी सैनिक, मन्बिज शहर में सीरियन कुर्द छापामारों की वर्दी में मौजूद हैं और उनके बीच और कुर्द छापामारों में अंतर करना बहुत कठिन है इसीलिए हम उन पर हमला करेंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ध्यान रहे इस सबंध में तुर्की के प्रधान मंत्री बिनिलि यिलिर्दी पहले ही अमेरिका सहित नाटो गठबंधन को चेतावनी दे चुके है कि अगर नाटो गठबंधन को आगे भी जारी रखना है सहयोगियों को तुर्की का समर्थन करना होगा और कुर्दों का साथ छोड़ना होगा.

अमेरिका का नाम लिए बिना उस पर निशाना साधते हुए तुर्की प्रधानमंत्री ने रविवार को कहा, “मुझे उन लोगों से कुछ कहना है जो वर्तमान में धूमिल अभियान चला रहे हैं. आप [अमेरिका] नाटो में हमारी सहयोगी हैं और हम विभिन्न क्षेत्रों में एक साथ काम कर रहे हैं. यदि यह गठबंधन जारी रहना है, तो आप लूटर्स के शब्दों को अनदेखा करेंगे, और तुर्की के के शब्दों को स्वीकार करेंगे.

आप को बता दें कि सीरिया सरकार भी तुर्की सरकार के इस सैन्य अभियान के खिलाफ है. सीरिया की सरकार ने भी तुर्क सैनिकों के इस अभियान की निंदा करते हुए इससे देश की अखंडता के विरुद्ध क़रार दिया है.

Loading...