sdfsad

वाशिंगटन | पिछले कुछ हफ्तों से दो खबरे काफी सुर्खियों में है. एक नोट बंदी और दूसरा फिल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रगान को चलाना. इन दोनों फैसलों पर पिछले काफी दिनों पर खूब बहस हो रही है. कोई नोट बंदी को सही बता रहा है तो कोई गलत. राष्ट्रगान के मामले में लोग इसका विरोध तो नही कर रहे है लेकिन काफी सुझाव सुनने को जरुर मिले है. अब यह दोनों फैसले विदेश में भी सुर्खिया बटोर रहे है.

अमेरिका के एक हास्य कार्यक्रम में नोट बंदी और राष्ट्रगान के फैसलों को खूब मजाक बनाया गया. अमेरिका के कार्यक्रम ‘द डेली शो विद ट्रिवोर नोआ’ में होस्ट ट्रिवोर नोआ ने नोट बंदी का मजाक उड़ाते हुए कहा की कुछ हफ्ते पहले सरकार ने लोगो से कहा की देश में प्रचलित सारी करेंसी अब बेकार हो गयी है. इनकी अब कोई कीमत नही है. आपके पास मौजूद सारी करेंसी को बदला जायेगा. इतिहास में यह पहली बार है की लोग किसी दुसरे को कह रहे है की आप मेरा पैसा रख लीजिये.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ट्रिवोर ने आगे बताया की सरकार के फैसले के बाद लोग बैंकों और एटीएम के सामने कतारों में खड़े होने को मजबूर है. इस दौरान ट्रिवोर ने दिल्ली के कुछ बैंक और एटीएम की तस्वीर भी दिखाई जहाँ काफी लोग लाइन में खड़े हुए थे. ट्रिवोर ने यह भी बताया की सरकार के इस फैसले के काफी लोग परेशान है और इस फैसले से खुश नही है.

सुप्रीम कोर्ट के हर फिल्म से पहले राष्ट्रगान चलाने के फैसले पर मजाक बनाते हुए ट्रिवोर ने कहा की नोट बंदी के बाद आप सोच रहे होंगे की सरकार बाकी सारी बाको को किनारे कर केवल इस संकट के बारे में ही सोच रही होगी लेकिन भारत के सुप्रीम कोर्ट ने एक दिलचस्प सुनाया. ट्रिवोर ने कहा की सुप्रीम कोर्ट के आदेशनुसार अब हर फिल्म से पहले राष्ट्रगान अनिवार्य होगा और उस समय सभी लोगो को खड़ा होना होगा.

ट्रिवोर ने इस फैसले का मजाक बनाते हुए कहा की वैसे इसमें कोई दिक्कत नही होने वाली क्योंकि भारत का राष्ट्रगान काफी संगीतमय है लेकिन क्या हो जब एक कामुक फिल्म शुरू होने से पहले राष्ट्रगान बजे और आपको खड़ा होना पड़े. ट्रिवोर जब यह कह रहे तो पीछे परदे पर ‘प्यार की एक रात’ नामक फिल्म का पोस्टर दिखाया जा रहा था.

यही नही ट्रिवोर ने इस फैसले का और मजाक बनाते हुए कहा की सोचिये आप इमरजेंसी को कॉल करते है और कहते है की हमारे घर में आग लगी हुई तब फायर ब्रिगेड वाला कहेगा की पहले आप राष्ट्रगान गाये तभी हम मदद करे. इस दौरान ट्रिवोर ने अमेरिका और भारत के राष्ट्रगान की तुलना की. उन्होंने कहा की जैसे अमेरिका में राष्ट्रगान के व्यावासिक इस्तेमाल पर रोक है उसी तरह भारत में भी राष्ट्रगान के व्यावासिक इस्तेमाल पर रोक लगायी गयी है.

देखे विडियो 

Loading...