अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने गुरुवार को तुर्की पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने की धमकी दी है। जिसके जवाब में तुर्की ने कहा कि हम किसी की भी धमकी के आगे झुकने वाले नहीं हैं।

अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि यदि गिरफ्तार किए गए अमेरिकी पादरी को तत्काल रिहा नहीं किया गया तो तुर्की पर कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाए जाएंगे। पेंस ने कहा कि तुर्की को अमेरिकी पादरी एंड्रयू ब्रॉनसन को तत्काल रिहा करना चाहिए अन्यथा कड़े परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए।

इस धमकी के जवाब में तुर्की के विदेशमंत्री मौलूद चावूश ओग़लू ने कहा है कि हम किसी की भी धमकी को सहन नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि क़ानून सबके लिए समान है।

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इससे पहले ट्वीट कर कहा था कि तुर्की को ब्रॉनसन को तत्काल रिहा करना चाहिए। उन्होंने पादरी की गिरफ्तारी को पूरी तरह से शर्मनाक बताया है।

गौरतलब है कि 50 वर्षीय पादरी को दो साल पहले जासूसी के आरोपों के तहत गिरफ्तार किया गया था। यदि वह दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें 35 साल की सजा हो सकती है।