donald trump reuters 1

ईरान, तुर्की, चीन, रूस के बाद अमेरिका ने अब भारत को प्रतिबंधों की धमकी दी है। ये धमकी रूस से लंबी दूरी की मारक क्षमता वाले एस-400 मिसाइल सिस्टम समेत अन्य हथियारों की खरीद को लेकर सामने आई है।

दरअसल, भारत अपने अपने पुराने सहयोगी से एयर मिसाइल सिस्टम एस-400 खरीद रहा है। पेंटागन में एशियाई व प्रशांत क्षेत्र के सुरक्षा मामलों के सहायक रक्षा सचिव रैंडल स्क्रिवर ने कहा कि यह सही नहीं है कि भारत कुछ भी करे, उसे प्रतिबंधों से छूट मिली रहेगी।

स्क्रिवर के मुताबिक अमेरिकी छूट से संदेश यह गया है कि भारत कुछ भी करे, उसे प्रतिबंधों से छूट मिली रहेगी। स्क्रिवर ने कहा, ‘मुझे लगता है यह बात थोड़ा भ्रम पैदा करने वाली है। भारत के (रूस से) हथियार खरीदने को लेकर हम अभी भी काफी चिंतित हैं। मैं यहां बैठ कर नहीं बता सकता कि उन्हें राहत या छूट दी जाएगी।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि भारत और रूस के बीच इंटरसेप्टर आधारित एस-400 ट्रायंफ मिसाइल सिस्टम के लिए 2016 में ही करार हुआ था। चीन 2014 में ही रूस से इसका सौदा कर चुका है और उसे यह पहले ही मिल चुका है। यह एस-300 का विकसित संस्करण है।

स्क्रिवर का यह बयान ऐसे समय में आया है जब अगले हफ्ते ‘2+2’ वार्ता के लिए उन्हें दिल्ली आना है। उनके साथ विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो और रक्षा मंत्री जिम मैटिस भी होंगे। स्क्रिवर ने बताया कि अगले हफ्ते ही भारत और अमेरिका की सेनाएं संयुक्त सैन्य अभ्यासों और रक्षा क्षेत्र की संभावनाओं को लेकर विचार-विमर्श करेंगी।

Loading...