ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने शनिवार को कहा कि विश्व अब अमेरिका का विश्वास नहीं करने वाला. क्योंकि अमेरिका अंतर्राष्ट्रीय मामलों में विश्वासपात्र देश नहीं है।

ईरान की संसद में शपथ ग्रहण समारोह में अपने संबोधन में  उन्होंने कहा कि ईरान अंतर्राष्ट्रीय परमाणु करार का पालन करेगा. हालांकि, ईरान करार के कार्यान्वन को लेकर अमेरिका की किसी भी धमकी पर चुप नहीं रहेगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि ईरान इस मामले में अमेरिका के हर प्रतिबंध और हर खतरे का माकूल जवाब देगा. उन्होंने कहा, कहा कि जो लोग करार तोड़ने के बारे में सोच रहे हैं, उन्हें खुद अपने राजनीतिक जीवन में इसका नुकसान उठाना पड़ेगा.

ईरान ने हाल ही अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा ईरान के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाए जाने की गुरुवार को निंदा की थी और उसे परमाणु करार का उल्लंघन बताया था

 

Loading...