9487780 3x2 700x467

9487780 3x2 700x467

इस्लामिक स्टेट के आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के नाम पर अब अमेरिका सीरिया में मासूम बच्चों पर बम गिरा रहा है. हाल ही में किये गए हवाई बमबारी में कम से कम 25 नागरिक मारे गए हैं जिनमें सात बच्चे भी शामिल हैं.

सीरियन ऑब्जरवेट्री फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार, अल शाहफाह गांव के आसपास रविवार को ये हवाई हमले किए गए. जिसमे सात बच्चों समेत 25 लोग मारे गए हैं. ऑब्जरवेट्री के प्रमुख रमी अब्देल रहमान के अनुसार, यह गांव पूर्वी सीरिया में आईएस नियंत्रित अंतिम इलाका है. यह फ़रात नदी के पूर्वी तट पर पड़ता है.

इसी बीच रूस ने कहा है कि सीरिया मामले के राजनीतिक हल की प्रक्रिया को कमजोर करने के प्रयास वह बुरी तरह से कुचल देगा. न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि रूस सीरियाई गृहयुद्ध के उचित हल और आतंकी खतरे को खत्म करने के हित में सीरिया के सभी पक्षों के साथ काम करना जारी रखेगा.

उसने कहा, “यह संतोषजनक है कि सुरक्षा परिषद ने सीरिया में शांति के लिए अस्ताना वार्ता प्रक्रिया में मध्यस्थता करने वाले देशों ईरान, रूस और तुर्की द्वारा किए जा रहे काम का उल्लेख किया. इस बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से फोन पर बातचीत के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि वे सीरिया में शांति के लिए रूस के साथ काम करेंगे.

बातचीत के दौरान मैक्रों और मर्केल ने पुतिन से सीरिया सरकार को बमबारी रोकने और युद्ध विराम जल्द लागू करने के लिए दबाव बनाने का आग्रह किया. इस्लामिक देशों के संगठन ओआइसी ने भी सीरिया में युद्ध विराम का प्रस्ताव पास होने का स्वागत किया.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें