Saturday, December 4, 2021

अमेरिका ने की पाक के सभी एफ-16 विमान की गिनती, किसी को भी कोई नुकसान नहीं

- Advertisement -

अमेरिका की एक पत्रिका ने दावा किया है कि पाकिस्तान के सभी F-16 लड़ाकू विमान सुरक्षित मौजूद हैं। उनमें से कोई भी ‘लापता’ नहीं है और उनमें से किसी को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।

अमेरिका की इस जांच के बाद भारत के फरवरी महीने में पाकिस्तान पर लगाए आरोपों पर सवाल उठने लगे हैं। दरअसल, भारत ने 28 फरवरी को पाकिस्तानी एफ-16 द्वारा दागी गई एएमआरएएएम मिसाइल के टुकड़े दिखाए थे। साथ ही दावा किया था कि एक हवाई संघर्ष में भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्धमान ने उस पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को मार गिराया, जो भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश कर रहा था।

पत्रिका ‘फॉरेन पॉलिसी’ के अनुसार, पाकिस्तान ने इस घटना के बाद अमेरिका को खुद पाकिस्तान आकर एफ-16 विमानों की गिनती कर लेने की पेशकश की थी, जैसा इस सैन्य बिक्री समझौते की शर्तों में दर्ज था। ‘फॉरेन पॉलिसी’ की लारा सैलिगमैन के मुताबिक, “पाकिस्तान के एफ-16 विमानों की अमेरिका द्वारा की गई गिनती में सभी विमान मौजूद पाए गए, जो भारत के उस दावे से पूरी तरह विरोधाभासी है कि उसने फरवरी में हुए संघर्ष में एक लड़ाकू विमान मार गिराया था…”

एक अनाम अधिकारी के हवाले से कहा गया, “गिनती पूरी हो गई है, और सभी विमान मौजूद हैं…” ‘फॉरेन पॉलिसी’ के मुताबिक, “मुमकिन है कि संघर्ष के दौरान मिग-21 बाइसन में सवार (अभिनंदन) वर्धमान ने पाकिस्तानी एफ-16 पर निशाना लॉक कर लिया हो, मिसाइल दागी भी हो, और उन्हें वास्तव में लगता हो कि उनका निशाना अचूक रहा। लेकिन पाकिस्तान में अमेरिकी अधिकारियों द्वारा की गई गिनती भारत के पक्ष पर शक पैदा करती है, और संकेत देती है कि भारतीय अधिकारियों ने संभवतः अंतरराष्ट्रीय समुदाय को उस दिन की घटनाओं के बारे में गुमराह किया…”

रक्षा विभाग ने हालांकि अभी पाकिस्तान में एफ-16 लड़ाकू विमानों की गिनती पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। एमआईटी प्रोफेसर विपिन नारंग ने पत्रिका से कहा, ‘ऐसा लग रहा है कि भारत पाकिस्तान को नुकसान पहुंचाने में नाकाम रहा बल्कि उसने इस प्रक्रिया में अपना एक विमान और हेलीकॉप्टर गंवा दिया।’

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles