Friday, June 25, 2021

 

 

 

अल-अजहर ने का फतवा – मुस्लिम ब्रदरहुड में शामिल होना शरीअत के खिलाफ

- Advertisement -
- Advertisement -

सुन्नी मुस्लिमों की सबसे बड़ी वैश्विक संस्था अल-अजहर के फतवा ग्लोबल सेंटर ने फतवा जारी कर मुस्लिम ब्रदरहुड में शामिल होने को शरीअत के खिलाफ करार दिया।

मिस्र के अखबार अल-वतन के हवाले से अरब न्यूज़ ने लिखा कि अल्लाह लोगों को सच्चाई का पालन करने से विचलित करने वाले किसी भी मार्ग का अनुसरण करने से मना करता है, यह समझाते हुए कि कुरान और सुन्नत को शरीयत के अनुसार रखना था। यहीं अल्लाह को प्रसन्न करने का एकमात्र तरीका है।

फतवे में कहा गया, “जनता ने यह स्पष्ट किया है कि इन समूहों ने कुछ ग्रंथों को विकृत करने, उनके संदर्भ में कटौती करने और निजी लक्ष्यों या हितों को हासिल करने और भूमि को दूषित करने के लिए उनका इस्तेमाल किया है।”

“इन चरमपंथी समूहों में सदस्यता को शरिया द्वारा निषिद्ध माना जाता है।”

इस्लामिक रिसर्च अकादमी के सदस्य अब्दुल्ला अल-नज्जर ने कहा, “आतंकवादी ब्रदरहुड में शामिल होना कानून द्वारा मना किया जाता है। यह अनैतिकता और आक्रामकता में सहयोग करता है, क्योंकि यह समूह अल्लाह के कानून का उल्लंघन करता है और आतंकवाद में शामिल है।”

धार्मिक मामलों और इस्लामी आंदोलनों के शोधकर्ता हुसैन अल-कादी ने कहा कि अल-अजहर के इतिहास में ये फतवा अपनी तरह का पहला मामला है। उन्होने कहा, “ऐसा फतवा अल-अजहर से पहले कभी जारी नहीं किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles