फ़िलिस्तीन के नक़ब क्षेत्र का अलअराक़ीब गांव हमेशा ही इजरायल की आँख में चुभता आया है. दुनिया में ये इकलोता गांव है जिसे 10 साल में 116 बार नष्ट किया गया है.

अलअराक़ीब गांव इजरायल की और से 1948 में अरबों के हड़पे गए 45 गांवों में से एक है, एक बार फिर तबाह कर दिया है. ज़ायोनी शासन, अतिग्रहित फ़िलिस्तीन के इस गांव को अपना कहता है और यहां रह रहे लोगों पर, जिनके पूर्वज सैकड़ों बरस से यहां रहते आए हैं, ग़ैर क़ानूनी क़ब्ज़े का आरोप लगाता है.

इस्राईल का कहना है कि अवैध रूप से यहां रह रहे लोगों को किसी अन्य स्थान की ओर भगा देना चाहिए. हालांकि फिलिस्तीनियों ने हमेशा से ही इजरायल के इस झूठ का मुकाबला किया. इस गाँव को इस्राईल के बुल्डोज़रों ने तीन हफ़्ते में तीन बार तक भी नष्ट किया लेकिन यहाँ के लोगों ने इस गांव को फिर से बसा लिया.

बार-बार इजरायल की और से घरों को तोड़े जाने की वजह से अब गांव के लोगों ने अपने घरों को सीमेंट के बजाए पत्थरों और लकड़ियों से घर बनाने शुरू कर दिए हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?