संयुक्त अरब इमारात का कहना है कि वह अमरीकी नेतृत्व में तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश के ख़िलाफ़ तथाकथित लड़ाई में शामिल होने के लिए अपने सैनिक सीरिया भेजेगा।

संयुक्त अरब इमारात के विदेशी मामलों के मंत्री अनवर गरगश ने अबूधाबी में एक प्रेस कांफ़्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, दाइश के ख़िलाफ़ लड़ाई बहुत धीमी गति से आगे बढ़ रही है और इससे यूएई निराश है।

उन्होंने कहा, हम हज़ारों सैनिक भेजने की बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि हम ज़मीन पर सैनिक उतारने की बात कर रहे हैं, जो लड़ाई का नेतृत्व करेंगे, जो समर्थन करेंगे, मेरा मानना है कि हमारी स्थिति पहले की ही तरह रहेगी। उन्होंने कहा कि इस अभियान का नेतृत्व अमरीका ही करेगा और यह यूएई की पूर्वशर्त है।

उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब ने 4 फ़रवरी को घोषणा की थी कि वह सीरिया में सैनिक भेजने के लिए तैयार है।

अमरीका ने सऊदी अरब की इस घोषणा का स्वागत किया था।

हालांकि सीरिया, ईरान और रूस ने इस तरह की किसी भी कार्यवाही के प्रति सऊदी अरब और उसके घटक देशों को चेतावनी दी थी।

4 फ़रवरी को ही रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि तुर्की, सीरिया पर हमला करने के लिए तैयारी कर रहा है।

अंकारा ने इस दावे को ख़ारिज करते हुए कहा था कि सीरिया में सीधे रूप में किसी भी सैन्य कार्यवाही का उसका कोई इरादा नहीं है

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन