वाशिंगटन | अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प आये दिन कुछ न कुछ ऐसे फैसले लेते रहते है जिसकी वजह से वो सुर्खियों में बने रहते है. कुछ दिन पहले सात मुस्लिम देशो के यात्रियों पर अमेरिका में प्रवेश करने को प्रतिबंधित कर दिया था. हालाँकि अमेरिकी कोर्ट ने ट्रम्प के इस फैसले पर रोक लगा दी थी लेकिन फिर भी उनका मुस्लिम देशो के प्रति रवैया बदलने का नाम नही ले रहा है.

अभी एक और ऐसे ही फैसले में उन्होंने 8 मुस्लिम देशो के यात्रियों पर प्रतिबंध लगाया है. हालाँकि इस बार अमेरिका में प्रवेश करने पर कोई प्रतिबंध नही लगाया गया है लेकिन इन देशो के यात्री कोई भी इलेक्ट्रॉनिक सामान अपने साथ नही ला सकेंगे. फ़िलहाल यह स्थायी प्रतिबंध है जो कुछ दिनों बाद हटने की सम्भावना है. हालाँकि इस बात की कोई जानकारी नही है की इस तरह का प्रतिबंध क्यों लगाया गया है.

ट्रम्प प्रशासन ने एक आदेश पारित कर मीडिया को बताया की मंगलवार से मिश्र, जॉर्डन , कुवैत, क़तर, सऊदी अरब, तुर्की और संयुक्त अरब अमीरात से अमेरिका आने वाले यात्री अपने साथ लैपटॉप, आईपैड , कैमरा और अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान साथ नही ला सकेंगे. हालाँकि इस प्रतिबंध में मोबाइल और चिकित्सीय उपकरणों को अलग रखा गया है. जब इस बारे में अमेरिकी सुरक्षा एजेंसीज से सवाल किया तो उन्होंने इस पर कुछ भी कहने से मना कर दिया.

जॉर्डन की रॉयल जॉर्डेनियन एयरलाइन्स और सऊदी अरब की आधिकारिक न्यूज एजेंसी ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया की यह प्रतिबंध केवल उन यात्रियों पर लगेगा जो इन देशो से सीधी फ्लाइट के जरिये अमेरिका जा रहे है. इसमें भी मिस्र, जॉर्डन, मोरक्को, कुवैत, कतर, तुर्की के एक-एक एअरपोर्ट और सऊदी अरब व UAE के दो-दो हवाईअड्डो से अमेरिका जाने वाले यात्रियों पर प्रतिबंध लगाया गया है. जानकारों के अनुसार यह प्रतिबंध किसी भी संभावित हमले की ख़ुफ़िया रिपोर्ट को देखते हुए लगाया जा सकता है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?