Wednesday, June 23, 2021

 

 

 

36 ब्रिटिश सांसदों ने भारत के किसान आंदोलन में की हस्तक्षेप की मांग

- Advertisement -
- Advertisement -

लंदन: 36  सांसदों के एक समूह ने ब्रिटेन के विदेश सचिव डॉमिनिक रैब को पत्र लिखकर अपने भारतीय समकक्ष एस जयशंक पर भारत में कृषि सुधारों के खिलाफ किसानों द्वारा किए गए प्रदर्शनों को लेकर दबाव बनाने की मांग की।

इन सांसदों का नेतृत्व लेबर पार्टी के सांसद तनमनजीत सिंह धेसी (British MP Tanmanjeet Singh Dhesi) कर रहे हैं। पत्र पर लैबर के वीरेंद्र शर्मा, सीमा मल्होत्रा ​​और वैलेरी वाज़ और अन्य लेबर लीडर जेरेमी कॉर्बिन सहित अन्य भारतीय मूल के सांसदों ने हस्ताक्षर किए हैं।

लेबर पार्टी के सांसद तनमनजीत सिंह ने कहा कि भारत सरकार कोरोना महामारी के बावजूद कृषि बिल लागू करने पर आमदा है। उन्होंने डॉमिनिक से कहा कि पिछले महीने कई ब्रिटिश सांसदों ने आपको और लंदन में भारतीय उच्चायोग को खत लिखकर यह बताया था इन कानूनों के जरिये किसानों के शोषण को लेकर तीन नए बिल लागू किए जा रहे हैं।

भारत ने किसानों द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शनों पर विदेशी नेताओं और राजनेताओं द्वारा की गई टिप्पणियों को “गैर-सूचित” और “अनुचित” कहा है क्योंकि यह मामला एक लोकतांत्रिक देश के आंतरिक मामलों से संबंधित है।

विदेशी नेताओं की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने मंगलवार को कहा, “हमने भारत में किसानों से संबंधित कुछ गलत सूचनाएँ देखी हैं। ऐसी टिप्पणियां अनुचित हैं, खासकर जब एक लोकतांत्रिक देश के आंतरिक मामलों से संबंधित होती हैं। ”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles