म्यांमार के राखिने में जारी हिंसा के बीच अपनी जान बचाकर बांग्लादेश आ रहे रोहिंग्या शरणार्थियों की नाव डूबने से करीब 19 लोगों की मौत हो गई. इस हादसे के चलते करीब 70 लोग लापता बताए जा रहे है.

ये रोहिंग्या मुसलमान समुद्री रास्ते से होकर म्यांमार से बांग्लादेश की तरफ आ रहे थे. नाव में करीब 130 लोग सवार थे. नाव तेज हवाओं और मूसलाधार बारिश के कारण नाव पलट गई. ध्यान रहे अब तक 5 लाख से ज्यादा रोहिंग्या मुसलमान म्यांमार से बांग्लादेश में प्रवेश कर चुके हैं.

स्थानीय पुलिस निरीक्षक मोहम्मद काई-किसलू ने एएफपी को बताया कि कम से कम 10 बच्चों और चार महिलाओं सहित 15 शव तट पर बह कर आ गए और आशंका है कि मृतक संख्या में इजाफा हो सकता है.

22 साल के नुरुल इस्लाम ने कहा कि नाव में 100 से अधिक लोग सवार थे और इसमें ज्यातर महिलाएं एवं बच्चे शामिल थे. उन्होंने कहा कि नाव में उनकी माता, पत्नी, बहन और छोटा बच्चा शामिल थे जो सभी नाव पलटने से डूब गए.

इसी बीच यूएन में अमेरिकी राजदूत निकी हेली ने सभी देशों से म्यांमार के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने को कहा है.। निकी हेली ने कहा कि सभी यूएन राष्ट्र म्यांमार को हथियार देना बंद कर दें ताकि रोहिंग्या पर हो रहे आत्याचार को रोका जा सका.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?