ij

ij

इजराइल ने अपनी बहादुरी के कारनामे को ऐसा गड़ा है कि दुनिया भर में उसे चर्चें बड़े ही चाव से किये जाते है. लेकिन दूसरी और बेगिनती उसके बुजदिली के कारनामे है. जिन पर वह हमेशा पर्दा डाले रखता है. इन बुजदिली भरे कारनामों को छुपाने में पश्चिमी मीडिया भी उसकी भरपूर मदद करता है.

हाल ही में एक बार फिर से इजराइल का बुजदिली भरा कारनामा सामने आया है. इजराइली सैनिकों ने एक 16 वर्षीय फिलिस्तीनी बच्चें को इसलिए गोली मार दी क्योंकि उसके भाई ने एक इजराइल सैनिक के मुंह पर बिना किसी डर के थप्पड़ मार दिया था.

2018 में इजराइली सैनिकों के हाथों शहीद होने वाला यह पहला फ़िलिस्तीनी है. इजराइली सैनिकों ने अवैध अधिकृत पश्चिमी तट में स्थित दैर निसाम गांव पर हमला करके 16 वर्षीय मुसाब तमीमी की गर्दन में गोली मारी. तमीमी को निहत्थे होने के बावजूद गोली मारी गई.

मुसाबा के छोटे भाई ओसामा तमीमी ने अपने भाई को शहीद होते हुए अपनी आंखों से देखा. वह अपने घर से कुछ ही दूरी पर स्थित ख़ून से भरे हुए उस स्थान की ओर इशारा करते हुए बोला कि देखिए इस जगह पर मेरे भाई को गर्दन में गोली मारकर ज़िबह कर दिया गया.

ओसामा ने उस दुख भरी घड़ी को याद करते हुए कहा, बुधवार को इजराइली सैनिकों ने बिना किसी चेतावनी के और गिरफ़्तारी की कोशिश किए बग़ैर ही निकट से मेरे भाई को गोली मार दी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?