Wednesday, May 25, 2022

इराक पर हुए अमेरिकी हमले के 15 साल, ट्रम्प ने बुश को सुनाई खरी-खरी

- Advertisement -
source: Vox

सन 2003 में अमेरिका की और से इराक पर हमला कर लाखों बेगुनाहों की जान लेने को 15 साल का वक्त पूरा होने वाला है. इस मौके पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तत्कालीन राष्ट्रपति जार्ज डब्लू बुश की निंदा की है.

डोनाल्ड ट्रम्प ने फ़्लोरिडा में रिपब्लिकन्स के वित्तीय सहयोगियों की बैठक में कहा कि सन 2003 मे इराक़ पर हमला, अमरीकी इतिहास में लिया गया सबसे बुरा फ़ैसला था.  उन्होंने व्यंग करते हुए कहा कि बुश ने बड़ा विचित्र काम किया.इससे पहले भी अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प, इराक़ हमले की निंदा कर चुके हैं.

सन 2016 में अपनी चुनाव प्रचार के दौरान ट्रम्प ने कहा था कि ग्यारह सितंबर की घटना के बाद इराक़ पर हमले से अमरीकी करदाताओं को छह खरब डाॅलर अदा करने पड़े थे.  इस बात को ट्रम्प कई बार कह चुके हैं कि इराक़ युद्ध में बुश ने जितना पैसा खर्च किया उतने पेैसे से अमरीका के जर्जर हो चुके मूलभूत ढांचे का कई बार पुननिर्माण किया जा सकता था.

ध्यान रहे अमरीका के भूतपूर्व राष्ट्रपति जार्ज बुश और तत्कालीन विदेशमंत्री काॅलिन पावेल ने इराक पर जनसंहारक शस्त्र के होने का हवाला देते हुए हमला किया था. लेकिन सद्दाम के पतन के बाद इराक़ का चप्पा-चप्पा ढूंढने के बावजूद वहां पर जनसंहारक शस्त्र नहीं मिल सका.

ऐसे में  अमरीकी अधिकारियों ने बहाना बनाते हुए कहा कि इराक़ पर हमले का कारण इस देश में लोकतंत्र की स्थापना करना था. हालांकि ट्रूप का ये बयान सिर्फ दिखावा है. वर्तमान समय में ट्रम्प ने आतंकवादी गुटों का समर्थन कर सीरिया को युद्ध की आग में झोंका हुआ है.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles