4bpm142bbbd86211lqy 800c450

कोआलालम्पूर विश्वविद्यायल के फ़िलिस्तीनी प्रोफ़ेसर की हत्या के मामले में मलेशिया के उप प्रधानमंत्री ने कहा कि इस हत्याकांड को इस्राईल की गुप्तचर सेवा मोसाद ने अंजाम दिया है.

उप प्रधानमंत्री अहमद ज़ाहेद हमीदी ने कहा कि फ़िलिस्तीनी प्रोफेसर “फ़ादी अलबत्श” की हत्या में लिप्त लोगों का संबन्ध एक विदेशी गुप्तचर सेवा से था. उन्होंने कहा कि इस फ़िलिस्तीनी की हत्या के बारे में जांच आरंभ कर दी गई है.

बता दें कि फ़िलिस्तीनी स्कॉलर “फ़ादी अलबत्श” पिछले दस सालों से मलेशिया में रह रहे थे. इलैक्ट्रानिक विज्ञान में उनकी उपलब्धियों के कारण उन्हें मलेशिया सरकार ने पुरस्कृत भी किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

palestinian-engineer-killed-mossad-malaysia

फ़ादी अलबत्श की हत्या उस वक्त की गई जब वे शनिवार की सुबह फ़ज्र की नमाज़ पढ़ने के लिए अपने घर से मस्जिद जा रहे थे. रास्ते में मोटरसाइकिल पर सवार दो लोगों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी.

फ़ादी अलबत्श के चाचा ने कहा है कि मोसाद को पता है कि साक्षर फ़िलिस्तीनी ही, फ़िलिस्तीन को इस्राईल से स्वतंत्र करा सकते हैं इसीलिए शिक्षित फ़िलिस्तीनियों की हत्याएं की जा रही हैं.

Loading...