ऑटो ड्राइवर: सोने के जेवरात से भरा बैग लौटा कर बोला ‘अल्लाह मुझे ईमानदारी की राह पर चलाता रहे’

भारत में ज्यादातर आबादी ऑटो रिक्शा पर चलना पसंद करती है ऐसे में अक्सर ऐसा हो जाता है के लोग ऑटो पर कहीं जाने के लिए बैठते हैं तो अपनी मंजिल पर उतरते समय अपना कुछ सामान भूल जाते हैं। कई कई बार ऐसा होता है के ऑटो रिक्शा ड्राइवर आपको उसी टाइम रोककर याद दिला देता है कि आप अपना सामान भूल गए हैं।

लेकिन अक्सर ऐसा भी होता है कि ऑटो ड्राइवर भी ध्यान नहीं दे पाता है कि आपका कुछ सामान ऑटो में रह गया है मध्य प्रदेश के इंदौर में एक ऑटो रिक्शा चालक ने सोने के जेवरात वाला बैग उसके मालिक को लौटा कर ईमानदारी की एक मिसाल पेश की है।

गुरुवार को मुंबई में आए रोहित विश्वकर्मा का बैग एक ऑटो में छूट गया था ऑटो ड्राइवर को जब यह बैग दिखा तो उसने पुलिस थाने में जाकर जमा कर दिया और रोहित को बैग वापस मिल गया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि ऑटो रिक्शा चालक मोहम्मद सलीम काम के बाद गुरुवार रात अपने घर लौटे तो उन्हें अपने वाहन में रोहित का बैग मिला जिसे उन्होंने आजाद नगर के क्षेत्रीय थाने में जमा कर दिया।

सलीम ने कहा,’मैंने बैग खोलकर नहीं देखा था और सीधे थाने जा कर इसे जमा कर दिया।’ सलीम की उम्र 50 वर्ष है उन्होंने कहा ‘मैं बहुत खुश हूं कि आखिरकार बैग उसके मालिक के पास पहुंच गया और अल्लाह मुझे ईमानदारी की राह पर चलाता रहे।’

विज्ञापन