Friday, October 22, 2021

 

 

 

दिल्ली पर आया बिजली संकट का साया

- Advertisement -

देश की राजधानी दिल्ली पर भी बिजली संकट का साया, टाटा पावर ने लोगों को मेसेज भेज कर दी चेतवानी संभालकर इस्‍तेमाल कर बिजली।

- Advertisement -

वर्तमान में चल रही कोयले की कमी का असर राजधानी की बिजली सप्‍लाई पर पड़ने की आशंका है। टाटा पावर ने उपभोक्‍ताओं को मेसेज भेजकर आगाह किया है। मैसेज में कहा गया है कि दोपहर दो बजे से शाम 6 बजे के बीच बिजली सप्‍लाई में दिक्‍कत आ सकती है। टाटा पावर दिल्‍ली डिस्‍ट्रीब्‍यूशन लिमिटेड (TPDDL) ने अपने उपभोक्‍ताओं से शांत रहने की विनती की है। टाटा पावर उत्‍तर और उत्‍तर-पश्चिमी दिल्‍ली में सप्‍लाई करता है।

भारत में कोयले का स्टॉक खत्म होने की कगार पर

कोविद 19 महामारी से उबार रही देश की अर्थव्यवस्था में तेज़ी आई ही है और अब बिजली की खपत भी बढ़ी है। जोकि वर्ष 2019 के मुकाबले पिछले 2 महीनो में 17 प्रतिशत बढ़ गई है और पूरी दुनिया में कोयले के दाम भी बढ़ गए है। भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा कोयला आयातक है, और भारत का कोयला आयात दो साल के न्‍यूनतम स्‍तर पर है। आयात घटने से जो प्‍लांट इम्‍पोर्टेड कोयले से चलते थे, वे भी देश में उत्‍पादित कोयले से चलने लगे हैं। यही करण्ड है के भारत में कोयले का उत्पाद इतनी मात्रा में नहीं हो प् रहा है जिसका प्रभाव सीधा बिजली सप्लाई पर पड़ा है।

  • बिजली का उत्पादन भारत में 70% कोयले से होता है।
  • देश के पावर प्लांटों के पास सितंबर के अंत में 81 लाख टन कोयले का भंडार था।
  • पिछले साल के मुकाबले 76 पर्सेंट कम हो गया है।

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी क्रिसिल के मुताबिक, जब तक कोयले की सप्लाई ठीक नहीं हो जाती, तब तक पावर ठप होने की समस्या देखने को मिलती रहेगी। बारिश का सीजन खत्म होने के बाद ही इसमे हालत में सुधर आने की आशंका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles