शादी को 18 दिन ही गुजरे थे के ड्यूटी पर चले गए थे अजहर, कभी वापस नही आए

10 मार्च 2021 को भारतीय सेना के जवान अजहरुद्दीन ने अपनी जिंदगी की नई शुरुआत की थी। इस दिन उनकी शादी हुई और वह अपने जीवन साथी को अपने घर हरियाणा के मेवात के तावडू के गांव नाई नगला मिलाए थे। उन्होंने अपनी बीवी से वादा किया था कि सारी उम्र साथ रहेंगे 23 वर्षीय अजहरुद्दीन शादी के कुछ ही दिनों बाद लौटकर अपनी यूनिट पठानकोट पहुंचे थे।

उस वक्त अजहरुद्दीन ने अपने घर वालों से वापस आने का वादा भी किया था। वह करीब 4 महीने बाद 21 अगस्त 2021 की तारीख पर वापस भी आए लेकिन उन्हें चार कंधों पर लाया गया क्योंकि शहीद अजहरुद्दीन ड्यूटी के दौरान अपना फर्ज निभाते हुए इस दुनिया को अलविदा बोल कर चले गए।

शहीद अजहरुद्दीन 10 आर्म्ड टैंक ऑपरेटर थे। वह बहुत ही जबरदस्त बॉक्सर और रेसर भी थे। फौज में कई बड़ी रेस उन्होंने जीती भी थी। 20 अगस्त को भी उन्होंने फौज की एक बड़ी रेस में हिस्सा लिया था। पठानकोट में फौज की इस रेस को अजहरुद्दीन ने जीत भी लिया था परंतु दिल की धड़कनें बढ़ गई और शहीद अजहरुद्दीन की सांसे रुक गई।

उनकी नई दुल्हन देवा हो गई। 3 महीने पहले अजहरुद्दीन के जनाजे को उनके गांव में लाया गया और फिर गांव के कब्रिस्तान में उनके जनाजे को दफनाया गया। जिम्मेदार लोगों ने अस्पताल से लेकर सड़क तक अजहरुद्दीन के नाम से बनवाने का वादा भी किया है।

विज्ञापन