भारत के पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिला मे 13 अक्टूबर 2018 को सुन्नी समुदाय के कादरिया पंथ ने अरबईन हुसैनी पद यात्रा का अनुकरण किया।

पश्चिमी बंगाल में सुन्नी समुदाय के कादेरी पंथ ने कर्बला नगर नामक एक शहर की स्थापना की और हजरत अली असगर (अलैहिस्सलाम) के नाम से विशाल इमाम बाड़ा बनाया है।

कादरीयो के पीर श्री रशादत अली कादरी ने 13 अक्टूबर को अपने 4000 अनुयायियो के साथ नंग्गे पैर इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के प्रताकात्मक शव यात्रा निकाली।

इस समारोह के विचित्र बिंदुओ मे से यह है शिया समुदाय के स्कॉलर मोहम्मद जैनुल आबेदीन कादरी पंथ के पीर रशादत अली के साथ थे जोकि सुन्नी शिया की एकता को दर्शाता है। शिया और सुन्नी समुदाय के विद्वानो का इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के इस समारोह मे भाग लेना मुसलमानो को एकजुट करने का प्रतिनिधित्व करता है।